उत्तराखंड: कोरोना जांच में लापरवाही पड़ी भारी, इस लैब पर गिरी गाज

रुद्रपुर: कोरोना जांच में लापरवाही बरतना लैब को भारी पड़ा है। स्वास्थ्य विभाग ले लाल पैथलैब के तीन कलेक्शन सेंटर के लॉगिन निरस्त कर दिए हैं। डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस आफीसर एसीएमओ डॉ. अविनाश खन्ना ने इसके आदेश भी जारी कर दिए हैं। साथ ही तीनों कलेक्शन सेंटर से जवाब मांगा है। जवाब नहीं मिलने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत एफआइआर दर्ज कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

डॉ. लाल पैथलैब की तरफ से 19 लोगों के सैंपल आरटीपीसीआर लिए गए थे। इनमें एक युवक की रिपोर्ट कोरोना संक्रमित निकलने के बाद भी इसकी जानकारी न तो कंट्रोल रूम को दी गई और न ही सर्विलांस अधिकारी को जानकारी दी गई। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कोरोना संक्रमण काल के दौरान निजी पैथलाजी को भी कोविड की जांच व सैंपलिंग की रिपोर्ट देने के अधिकार दिए गए थे। इसी क्रम मे रुद्रपुर स्थित डा. लाल पैथ लैब की तरफ से लगातार कोरोना संक्रमण को लेकर सैंपलिंग व रिपोर्ट विभाग को दी जा रही थी।

जानकारी के अनुसार बीते दिनों 27 नवंबर को डॉ. लाल पैथलैब की तरफ से 19 लोगों के सैंपल आरटीपीसीआर जांच के लिए लिए गए। इनमें एक युवक की रिपोर्ट कोरोना संक्रमित निकलने के बाद भी कलेक्शन सेंटर की तरफ से आनलाइन मुख्यालय की वेबसाइट पर इसकी जानकारी तो अपलोड कर दी गई। पर जिलास्तर पर इसकी जानकारी न तो कंट्रोल रूम को दी गई और न ही सर्विलांस आफीसर डा. अविनश खन्ना को दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here