उत्तराखंड : बेरहम मां ने भरे बाजार 2 साल के बेटे को दिया जहर, खुद भी गटका

अल्मोड़ा : अल्मोड़ में के दिन देहला देने वाला मामला सामने आया है। महिला ने घर में झगड़ा होने के बाद घर छोड़ा और बाजार पहुंच गई। बाजार में उसने भरे बाजार में अपने दो साल के बेटे को जहर पिला दिया और खुद भी जर पी लिया। इतना ही नहीं महीला ने अपनी 7 साल की बेटी को भी जहर पिलाने का प्रयास किया, लेकिन उसने पीने नसे मना कर दिया। महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। जबकि मासूम को हायर सेंटर रेफर किया गया था। उत्तराखंड के अल्मोड़ा में भिकियासैंण की स्याल्दे तहसील अंतर्गत पटवारी क्षेत्र खाल्यों निवासी एक महिला ने गृह कलह होने पर भरे बाजार अपने दो साल के बेटे को जहर देने के बाद खुद भी जहर खा लिया।

महिला की मौत हो गई जबकि बच्चे को हायर सेंटर रेफर किया गया है। महिला ने अपनी सात साल की बेटी को भी जहर देने का प्रयास किया लेकिन उसने नहीं खाया, जिससे उसकी जान बच गई। लॉकडाउन से पहले वह घर चला आया और तब से घर पर ही है। घर वापसी के साथ ही परिवार में आए दिन कलह होने लगा। उसकी पत्नी देवकी देवी सोमवार सुबह घर पर झगड़ा होने के बाद अपने बेटे दो साल के मासूम हिमांशु और सात साल की बेटी हिमांशी को लेकर बाजार की तरफ निकल गई। उसका पति देबसिंह भी उसके पीछे-पीछे आ गया।

रास्ते में पति-पत्नी के बीच बहस होती रही। देवकी देवी ने किसी दुकान से दवा खरीदी और सड़क के पास जाकर दवा पी ली। उसके बाद बेटे को भी पेप्सी बताकर दवा पिला दी और उसको भी पीने को कहा लेकिन, उसने मना कर दिया। दवा पीने के बाद मां बेहोश हो गई और छोटी बेटी भी रोने लगा। राहगीरों ने महिला को बेहोशी की हालत में देखा तो उन्होंने सभी को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देघाट पहुंचाया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देघाट के प्रभारी डॉ. एसके बिस्वास ने बताया कि उपचार शुरू करने से पहले ही महिला ने दम तोड़ दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here