उत्तराखंड: शिक्षिका की पिटाई से चली गई आंखों की रोशनी, मुकदमा दर्ज

 

काशीपुर: ऊधमसिंह नगर जिले के काशीपुर में एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है। रिपोर्ट के अनुसार एक सरकारी स्कूल की शिक्षिका के सिर गुस्सा ऐसे सवाल हुआ कि उसने कक्षा एक में पढ़ने वाली मासूम छात्रा की बुरी तरह से पिटाई कर दी। बताया जा रहा है कि शिक्षिका ने उसकी आंखें फोड़ दी। आरोप है कि टीचर आभा शर्मा की मारपीट के बाद 7 वर्षीय मासूम की दायीं आंख की रोशनी चली गई। मामले में कोर्ट ने मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए है।

बताया जा रहा है कि पुलिस ने शिक्षिका पर केस दर्ज नहीं किया था। अब कोर्ट के आदेश पर आरोपित शिक्षिका के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। आईटीआई थाना क्षेत्र के ग्राम गुलड़िया निवासी इरफान पुत्र मोहम्मद जान ने न्यायिक मजिस्ट्रेट काशीपुर के न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर कहा कि उसकी सात वर्षीय बेटी आलिया राजकीय प्राथमिक विद्यालय गुलड़िया में कक्षा एक की छात्रा है।

दरअसल, यह मामला पिछले साल 18 नवंबर का है। छात्रा के पिता का कहना है कि करीब 11 बजे क्लास टीचर आभा शर्मा ने आलिया के मुंह पर प्लास्टिक के पंजे से तेजी से प्रहार किया। प्लास्टिक के पंजे से गहरी चोट लगने के कारण बेटी की आंख फूट गई। जिसके बाद घायल बच्ची को परिजनों ने अस्पताल पहुंचाया। डॉक्टरों ने बच्ची की हालत नाजुक देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया था। आलिया के पिता इरफान ने कहा है कि उसकी बेटी की अब आंख की रोशनी चली गई है।

आंख की रोशनी चले जाने से बच्ची का भविष्य अंधकारमय हो गया, वो रोजमर्रा के काम भी ठीक से नहीं कर पाती। इस घटना के बाद पूरा परिवार सदमे में है। बच्ची के पिता ने मामले की शिकायत जब पुलिस से की तो उन्होंने मामले का संज्ञान नहीं लिया। मजबूरन स्वजनों को कोर्ट की शरण में जाना पड़ा। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने आरोपित शिक्षिका आभा शर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं बच्ची के पिता इरफान का कहना है कि वो बेटी के लिए इंसाफ चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here