उत्तराखंड: होम क्वारंटीन कर भूला स्वास्थ्य विभाग, जांच कराने खुद पहुंचा AIIMS, निकला पाॅजिटिव

ऋषिकेश: स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। एम्स में आशुतोष नगर निवासी एक युवक कोरोना पाॅजिटिव निकला है। बड़ी बात ये है कि इस युवक को होम क्वारंटीन करने के बाद ना तो स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने कोई जानकारी ली और ना प्रशासन ने इसके बारे में कोई अपडेट लिया। युवक की जब तबीयत बिगड़ी तो वो खुद ही एम्स में कोरोना जांच कराने पहुंच गया, जहां उसकी रिपोर्ट पाॅजिटिव आई।

एम्स ऋषिकेश में आशुतोष नगर निवासी एक कोविड पॉजिटिव 27 वर्षीय युवक को भर्ती किया गया है। युवक मुंबई स्थित एक होटल में कार्यरत था और दो दिन पूर्व वहां से अपने घर लौटा था। एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल जी ने बताया कि युवक मुंबई के होटल आईटीसी मराठा में करीब छह साल से बतौर रिसेप्शनिस्ट है, जो बीते 14 मई को वहां से अपने घर आशुतोष नगर, ऋषिकेश लौटा है। उसके बाद से होम क्वारंटाइन में था। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य खराब होने पर बीते दिवस 16 मई शनिवार को मरीज का सैंपल लिया गया। जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई।

उन्होंने बताया कि हाल ही में युवक जिस होटल में कार्यरत है उसमें कुछ सकारात्मक मामले मिले थे, जिसके बाद युवक घर लौटा था। हालांकि वहां उसका कोविड परीक्षण किया गया था, जिसमें रिपोर्ट निगेटिव आई थी। घर लौटकर होम क्वारंटाइन में रह रहे इस युवक के स्वास्थ्य में दिक्कत होने पर वह खुद ही एम्स ऋषिकेश की कोविड स्क्रीनिंग ओपीडी में जांच के लिए आया था, जहां कोविड के मद्देनजर उसके रक्त का नमूना लिया गया।

उन्होंने बताया कि संभवतः उसे अपने कोविड संक्रमित होटल के सहकर्मियों या लंबी दूरी की यात्रा के दौरान किसी अन्य व्यक्ति से संक्रमण हुआ है। लिहाजा एम्स में परीक्षण के उपरांत 16 मई की मध्य रात्रि को उसकी जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में जिला और राज्य निगरानी से जुड़े अधिकारियों को मामले के बारे में सूचित कर दिया गया है और डिटेल कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग और आवश्यक कार्रवाई करने का अनुरोध किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here