उत्तराखंड : दमयंती रावत मामले पर बोले हरक, अध्यक्ष को अधिकार नहीं वह सचिव को हटाए

देहरादून। उत्तराखंड सन्निर्माण कर्मकार बोर्ड के सचिव पद से दमयंती रावत की छुट्टी होने के बाद श्रम मंत्री हरक सिंह रावत का बड़ा बयान सामने आया है। हरक सिंह रावत का कहना है कि उत्तराखंड सन्निर्माण कर्मकार बोर्ड के अध्यक्ष को अधिकार नहीं है कि वह सचिव को हटा दें। हरक सिंह रावत ने कहा कि बोर्ड के नए अध्यक्ष शमशेर सिंह सत्याल की भी ये अज्ञानता है कि उन्होंने सचिव को हटा दिया और हटाकर अपमानित कर दिया। वहीं हरक सिंह रावत का कहना है कि कल उन्होंने मुख्यमंत्री से मिलकर भी ये बात कही है कि यह नियमों के तहत नहीं आता है।

हरक सिंह का कहना है कि मुख्यमंत्री से उन्होंने बातचीत के दौरान ये भी कहा कि यदि उनको अध्यक्ष पद से हटाना था तो उसे पहले उन्हे बताया तो जाता, क्योंकि वह श्रम मंत्री के नाते बोर्ड के अध्यक्ष थे और उनका कार्यकाल तय नहीं था, क्योंकि नए अध्यक्ष के आने तक उनका कार्यकाल रहता है।हरक सिंह रावत ने कहा कि ये बात ठीक है कि कार्यकर्ता को एडजस्ट करने के लिए अगर ये किया गया है तो उनसे ये बात पहले कह देते तो वह लिखित में दे देते। कुल मिलकार कुछ भी हो लेकिन जिस तहर से पहले उत्तराखंड सन्निर्माण कर्मकार बोर्ड के अध्यक्ष पद से हरक सिंह रावत को हटाया गया है और अब उसके बाद दमयंती रावत को सचिव पद से हटाया गया। उससे ये बात तो सिद्ध होती है कि हरक का कद घटाने को लेकर ये फैसला लिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here