उत्तराखंड : गांव में गुलदार की दहशत, रेंजर बोले हनुमान थोड़े हूं…

guldar

 

जसपुर: उत्तराखंड में गुलदार की दहशत कम होने का नाम नहीं ले रही है। गुलादर के हमले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। एक के बाद एक हर रोज लोग गुलदार के हमलों में मारे जा रहे हैं। बावजूद वन विभाग के आला अधिकारी कुछ करने के बजाय लोगों को ही बेतुकी बातें सुना रहे हैं। जसपुर में इन दिनों लोग आदमखोर तेंदुए के डर से दहशत में है। कुछ दिन पहले क्षेत्र की एक बच्ची को तेंदुए मार चुका है और शनिवार को भी एक ग्रामीण पर हमला किया था।

इसी हमले की जानकारी देने जब ग्रामीण रेंजर को फोन कर अपनी दिक्कतें बताई, तो रेंजर उनको सुनने के बजाय उन्हीं को बेतुकी बातें सुनाने लगे। ग्रामीणों का आरोप है कि रेंजर समस्या के समधान की बात कहने के बजाय यह कहने लगे कि मैं हनुमान नहीं हूं जो उड़कर आ जाऊंगा। इस मामले का एक ऑडियो ग्रामीणों ने विधायक और डीएफओ को भेजा है। डीएफओ ने जांच कर कार्रवाई की बात कही है।

ग्राम भगवंतपुर में दो दिन से लगातार रात को एक तेंदुआ ग्रामीणों लगातार नजर आ रहा है। शनिवार देर शाम जसपुर से साइकिल पर आ रहे शिवम चैहान पर तेंदुए ने हमला मारकर घायल कर दिया। उस रात को मुजाहिद हुसैन ने फोन से तेंदुआ आने की सूचना पतरामपुर रेंज के रेंजर को दी। उनका आरोप है कि रेंजर फोन पर अभद्रता करने लगे।

सोमवार को विधायक आदेश चैहान ग्रामीणों के साथ पतरामपुर वन रेंज चैकी पर पहुंचे और रेंजर से क्षेत्र में पिंजरा लगाने को कहा। इस दौरान विधायक ने रेंजर को खरीखोटी सुनाते हुए डीएफओ से भी शिकायत की। कुछ दिन पूर्व यूपी, उत्तराखंड के सीमावर्ती ग्राम धर्मपुर बहेड़ी में एक तेंदुआ 11 साल की एक बच्ची को उठाकर ले गया था। उसका शव गन्ने के खेत में मिला था। उस घटना के बाद से क्षेत्रवासियों में दहशत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here