उत्तराखंड सरकार नदियों के प्रति संवेदनशील है -सीएम

दिल्ली- उत्तराखंड सरकार गंगा को लेकर बेहद संवदेनशील है। राज्य सरकार गंगा सफाई और उसके संरक्षण के लिये प्रतिबद्ध है। ये बात राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दिल्ली में उस वक्त कही जब वे गंगा संरक्षण मंत्रालय के केंद्रीय राज्य मंत्री डा संजीव बालियान से मुलाकात कर रहे थे।

इस मौके पर सीएम ने जानकारी दी कि राज्य सेनिकलने वाली तमाम सहायक नदियों को साफ करने की मुहिम शुरू की गयी है, जिसके अच्छे नतीजे आये है। सीएम ने केंद्रीय मंत्री को देहरादून में रिस्पना और बिंदाल नदियों समेत सहस्त्रधारा रोड़ पर मौजूद ट्रेंचिंग ग्राउन्ड में बदबू खत्म करने वाले जैविक पदार्थ के छिड़काव के बारे में जानकारी दी।

सीएम ने छिड़के जैविक उत्पाद की खूबियां बताते हुए कहा कि, छिड़का रसायन कचरे की दुर्गंध तो खत्म करेगा ही उसे खाद में भी बदलेगा।  केन्द्रीय राज्य मंत्री डा. संजीव कुमार बालियान ने जैविक उत्पाद के बारे में रूचि जाहिर करते हुये जानकारी ली।

वहीं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उन्हें कचरा प्रबंधन के लिए जरूरी ट्रेंचिंग ग्राउड़ की किल्लत के बारे में बताया। सीएम ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य का 70 प्रतिशत भू-भाग वन क्षेत्र है। जिससे शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में ट्रेंचिंग ग्राउन्ड की कमी है। वहीं सीएम ने कहा कि शहरों के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी ठोस कचरे के प्रबंधन की दरकार है।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here