उत्तराखंड : रकम दोगुना करने के नाम पर 10 करोड़ की ठगी, कंपनी का ऑफिस रातोंरात बंद

रुड़की: लोग पैसों को दोगुना करने के नाम पर अक्सर लालच में फंस जाते हैं। पिछले दिनों ऐप के जरिए करोड़ों की ठगी का मामला सामने आया था। अब रुड़की में एक और मामला सामने आया है, जिसमें करीब 10 करोड़ की ठगी बताई जा रही है। एक प्राइवेट बीमा कंपनी ने लोगों को साढ़े तीन साल में रकम दोगुनी करने के झांसे में आकर लक्सर क्षेत्र के सैकड़ों लोगों ने करोड़ों रुपये गंवा दिए।

कंपनी रातोंरात ऑफिस बंद कर फरार हो गई। कंपनी में पैसा लगाने वाले लोग दोनों कार्यालयों पर पहुंचे, लेकिन ताला लटका मिला। इस पर कंपनी के एक एजेंट की ओर से पुलिस को तहरीर दी गई। पुलिस ने तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर लिया है।  लगभग छह साल पहले एक निजी बीमा कंपनी ने लक्सर नगर में अपना कार्यालय खोला था। कंपनी ने दावा किया था कि वह ग्राहकों को साढ़े तीन साल के भीतर उनकी रकम भी दोगुनी करके देगी। कंपनी ने कई स्थानीय लोगों को बतौर एजेंट तैनात किया था।

इससे क्षेत्र के लोगों का विश्वास कंपनी के प्रति बढ़ गया और क्षेत्र के हजारों लोगों ने 10 करोड़ से भी ज्यादा की रकम कंपनी में जमा करा दी। शुरू में कंपनी ने सैकड़ों ग्राहकों की बीमा पॉलिसी मैच्योर होने पर उन्हें दोगुनी रकम वापस भी कर दी। इससे और नए ग्राहक कंपनी से जुड़ गए। अब पिछले कुछ महीनों से कंपनी ग्राहकों की रकम वापसी करने से आनाकानी कर रही थी। दो दिन पूर्व कंपनी ने लक्सर कार्यालय रातोंरात बंद कर दिया। जानकारी होने पर सैकड़ों ग्राहक कंपनी के हरिद्वार और पुरकाजी में स्थित कंपनी के मुख्य कार्यालय पर पहुंचे, लेकिन वहां भी ताला लटका मिला।

कंपनी में एजेंट के तौर पर काम करने वाले खानपुर थाना क्षेत्र के मिर्जापुर सादात गांव निवासी सतीश ने पुलिस को तहरीर दी है। कोतवाली प्रभारी प्रदीप चौहान ने बताया कि तहरीर पर कंपनी के एमडी एहसान हैदर, डायरेक्टर जावेद, उनके रिश्तेदार नौशाद अंसारी निवासी बसेड़ी खादर और सुनील कुमार निवासी सेठपुर के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। साथ ही मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here