उत्तराखंड : तीन तलाक का जिले में पहला मुकदमा दर्ज, गिरफ्तारी भी

ऊधम सिंह नगर (मोहम्मद यासीन) : तीन तलाक के मामले में जिले में दर्ज पहले मुकदमे में पुलिस ने आज गिरफ्तारी कर ली है , इस तरह के मामलों में उत्तराखण्ड राज्य की यह पहली गिरफ्तारी है. जिले के नानकमत्ता थाने में बीवी ने अपने शौहर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। नानकमत्ता पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

रवीना नाम की महिला ने कराया था मुकदमा दर्ज

आपको बता दें कि गत 21 नवम्बर को ऊधम सिंह नगर के थाना नानकमत्ता में रवीना नाम की महिला ने मुकदमा दर्ज कराया था। रवीना ने अपनी शिकायत में बताया था कि 2 अक्टूबर 2016 में उसका विवाह ग्राम ड्योढ़ी निवासी अतीक के साथ हुआ था।

शादी के बाद दहेज की मांग की गई-रवीना

रवीना का आरोप है कि शादी के बाद उससे दहेज की मांग की गई, जिस पर उसने अपने मायके जाकर सितारगंज थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। बाद में ससुराल पक्ष के लोगों ने इस मामले में सुलह कर ली। रवीना का आरोप है कि सुलह के बाद उस पर हलाला के लिए दबाव बनाया गया और हलाला न कराने पर उसके पति ने दूसरी शादी कर ली।

वहीं पुलिस ने 3/4 मुस्लिम महिला विवाह सुरक्षा अधिनियम 2018 के तहत इस मामले को दर्ज कर लिया था. मुकदमा दर्ज होने के बाद से आरोपी अतीक फरार चल रहा था, जिसे आज नानकमत्ता पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here