उत्तराखंड में गजब! फर्जी दस्तावेज से इस शख्स ने अपने नाम करा लिया पेट्रोल पंप

 

 

जसपुर: तहसील फर्जी दस्तावेज बनाने के लिए पहले से ही बदनाम रही है। अधिकारियों ने इस तरह के कामों पर रोक लगाने के दावे तो किए, लेकिन अब भी फर्जी प्रमाण पत्रों को बनाने का सिलसिला जसपुर तहसील में जारी है। तहसील में एक के बाद एक फर्जी प्रमाण पत्र के मामले सामने आते रहे हैं।

ताजा मामले के अनुसार धनेंद्र कुमार नाम के व्यक्ति ने अनुसूचित जन जाती का फर्जी प्रमाण पत्र बनबाकर अपने नाम एक पेट्रोल पंप स्वीकृत करा लिया। डॉ. वीर सिंह गौतम ने इस बात की शिकायत उप जिलाधिकारी समेत अन्य अधिकारियों से की है। साथ ही फर्जी तस्तावेजांे को शीघ्र निरस्त करने की भी मांग की है। शिकायत के बाद प्रसाशन ने जांच के लिए संयुक्त टीम भी गठित कर दी है।

अखिल भारतीय अनुसूचित जाति के केंद्रीय मंत्री डॉ. वीर सिंह गौतम ने आरोप लगाया है कि सरकार के कुछ प्रतिनिधियांे की मिलीभगत से यह कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अगर फर्जी प्रमाण पत्र निरस्त नहीं किये गए तो हम आंदोलन किया जाएगा। वहीं, जसपुर एसडीएम सुंदर सिंह ने बताया कि फर्जी दस्तावेजों का मामला सामने आया है। जांच की जा रही है, जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here