उत्तराखंड Exclusive खबर : भाजपा कार्यकारिणी विस्तार पर बड़ा खुलासा, आखिर कौन बोल रहा झूठ?

देहरादून । उत्तराखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के द्वारा कार्यकारिणी विस्तार पर सवाल उठने लगे हैं। भाजपा के अंदर ही कई लोग इस बात को लेकर सवाल खड़े कर रहे हैं कि प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के द्वारा कार्यकारिणी विस्तार कि जो लिस्ट तैयार की गई है,उस की प्रतिलिपि भाजपा के प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू को क्यों नहीं भेजी गई है।

आपको बता दें कि 5 अक्टूबर को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के द्वारा 136 लोगों की कार्यकारिणी का विस्तार किया गया था। जिसमें 21 स्थाई आमंत्रित सदस्य थे, जबकि 27 प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य थे और 28 विशेष आमंत्रित सदस्यों को कार्यकारिणी विस्तार में जगह दी गई है। लेकिन सवाल इस बात को लेकर उठ रहे हैं कि आखिर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के द्वारा कार्यकारिणी का जो विस्तार किया गया है, उसकी प्रतिलिपि प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू को क्यों नहीं भेजी गई? कार्यकारिणी के विस्तार की लिष्ट बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष और राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन शिव प्रकाश के साथ प्रदेश महामंत्री संगठन अजय कुमार को भेजी गई, लेकिन प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू को कार्यकारिणी विस्तार की प्रतिलिपि नहीं भेजी गई।

हालांकि जब इस बारे में हमने जब भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत से बात की तो उन्होंने कहा कि यह उनके संज्ञान में नहीं है कि प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू को लिस्ट नहीं भेजी गई है। यह कार्यालय स्तर का मामला है कि सूची किस-किस को भेजी गई है।

वहीं भाजपा के प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू से जब हमने इस बारे में बात की तो उन्होंने कहा कि उन्हें कार्यकारिणी विस्तार की लिस्ट मिल चुकी है। लेकिन जब हमने उनसे यह सवाल किया कि जब आपको लिस्भेटजी ही नहीं गई तो फिर श्याम जाजू को लिस्ट कहां से मिली? वहीं इस सवाल पर श्याम जाजू ने गोलमोल जवाब देते हुए कहा कि यह पार्टी के अंदर का मामला है और उन्हें जब लिस्ट बन रही थी, तो उस समय अपनी राय कार्यकारिणी विस्तार को लेकर दे दी थी। लेकिन सबसे बड़ा सवाल यही उठता है कि आखिर भाजपा प्रदेश प्रभारी को कार्यकारिणी विस्तार होने के बाद प्रतिलिपि क्यों नहीं भेजी गई। और यही चर्चा अब भाजपा के प्रदेश।के नेताओ में चर्चाओं का विषय बना हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here