उत्तराखंड : कोरोना मरीजों के लिए खाली करें बेड, DM ने इन दो बड़े अस्पतालों को दिए निर्देश

देहरादून : कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने निजी अस्पतालों को कोरोना के इलाज की अनुमति दी है। इसके लिए बाकायदा सरकार ने इलाज की दरें भी निर्धारित की हैं। कुछ अस्पतालों में तो पहले से ही कोरोना का इलाज किया जा रहा है। अब देहरादून डीएम आशीष श्रीवास्तव ने देहरादून जिले के दो और बड़े अस्पतालों को कोरोना मरीजों का इलाज करने के लिए तैयार रहने को कह दिया है।

कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने निजी अस्पतालों में इलाज की कवायद तेज कर दी है। महंत इंदिरेश, सुभारती मेडिकल कॉलेज और एचआइएचटी जौलीग्रांट अस्पताल में कोरोना संक्रमित मरीजों का उपचार पहले से चल रहा है। अब जल्द मैक्स और सीएमआइ में भी कोराना संक्रमित मरीजों का उपचार सरकार की ओर से तय की गई दर के आधार पर शुरू किया जाएगा।

डीएम डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने गुरुवार को आदेश जारी कर दोनों अस्पताल प्रशासन को निर्देश दिए हैं कि वह 85 बेड तैयार रखें। इसमें 12 आइसीयू बेड भी शामिल करने को कहा गया है। इसके अलावा सिनर्जी और कैलाश अस्पताल में भी कोरोना संक्रमितों के उपचार के लिए कवायद तेज कर दी गई है। यहां भी बेड आरक्षित करने के लिए जल्द आदेश जारी कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here