उत्तराखंड : क्रिकेटर सुमित जुयाल ने किया फर्जीवाड़ा, BCCI ने दो साल के लिए किया बैन

देहरादून : उत्तराखंड को झटका देने वाली और एक बुरी खबर है. जी हां बीसीसीआई ने अंडर-19 क्रिकेट टीम में फ्रॉड कर जगह बनाने वाले खिलाड़ी सुमित जुयाल को टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया है साथ ही जुयाल को दो साल के लिए बैन कर दिया है। बता दें सुमित जुयाल ने टीम में चयन होने के लिए दस्तावेजों में उम्र का फर्जीवाड़ा किया था।

लोढा कमेटी की सिफारिश पर उत्तराखंड की टीम यूसीसीसी के अंर्तगत पहली बार घरेलू सत्र में खेलने के लिए मैदान पर उतरी। इसमें उत्तराखंड की अंडर-19 टीम का चयन किया गया। टीम में उम्र का फर्जीवाड़ा कर सुमित जुयाल को भी शामिल किया गया जो की योग्य नहीं थे उन्होंने उम्र के दस्तावेजों में गड़बड़ी कर चयन हासिल किया.

यूसीसीसी मैनेजर क्रिकेट ऑपरेशन अमित पांडे ने बताया कि सुमित जुयाल की सही उम्र 26 मार्च 1999 हैं। इसके अनुसार उनकी उम्र 21 वर्ष है लेकिन सुमित ने अपनी उम्र कम दर्शाने के लिए फर्जी दस्तावेज बनाया। सुमित ने 26 नवंबर 2001 के फर्जी जन्म प्रमाण पत्र और मूल निवास प्रमाण पत्र के सहारे टीम में जगह तो बनाई, लेकिन ज्यादा दिन टिक नहीं पाए। सुमित जुयाल के दस्तावेज फर्जी पाए जाने पर बीसीसीआइ व यूसीसीसी ने उस पर दो सत्र 2019-20 व 2020-21 के लिए प्रतिबंध लगाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here