उत्तराखंड कांग्रेस का बड़ा कदम, बर्फीले इलाकों में तैनात सैनिकों को भेजेगी स्नो बूट्स

देहरादून : हाल ही में सियाचिन में तैनात उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल के जवान की मौत हुी। मौत का कारण सियाचिन में ठंड लगना और ऑक्सीजन की कमी बताई गई. वहीं संसद में हुए कैग रिपोर्ट के खुलासे के बाद हर कोई देश के जवानों के लिए चिंतित है खासतौर पर उत्तराखंड के लोग. क्योंकि अधिकतर उत्तराखंड के जवान ही सेना में हैं और देश की रक्षा कर रहे हैं। वहीं कैग के खुलासे के बाद उत्तराखंड कांग्रेस बड़ा कदम उठाने जा रही है।

जी हां कांग्रेस ने सियाचिन-लद्दाख जैसे बर्फीले इलाकों में तैनात सैनिकों को 10 स्नो बूट्स देने की घोषणा की है। कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय में प्रेस वार्ता कर उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने बताया कि देश की संसद के दोनों सदनों में कैग की ओर से प्रस्तुत रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि ऊंचाई वाले लद्दाख सियाचिन, गुलमर्ग जैसे बर्फीले इलाकों में सैनिकों को स्नो बूट्स, स्नो गॉगल्स, जैकेट व स्लीपिंग बैग्स की भारी कमी है और तो और सैनिकों को उचित मात्रा में भोजन भी नहीं मिल पा रहा है। उन्‍होंने कहा कि इस रिपोर्ट से पूरे देश में और विशेष तौर पे उत्तराखंड में लोगों के मन में चिंता होना स्वाभाविक है क्योंकि उत्तराखंड एक सैन्य बाहुल्य प्रदेश है और कुछ दिन पूर्व ही सियाचिन में तैनात एक फौजी रमेश बहुगुणा का शव उत्तराखंड आया था, जो ठंड व ऑक्सीजन की कमी की वजह से शहीद हो गए थे।

धस्माना ने बताया कि इसको देखते हुए वे कांग्रेस की तरफ से देश के बहादुर सैनिकों के लिए सौ जोड़ी स्नो बूट्स भेंट करेंगे। इस संबंध में देश के रक्षा मंत्री व चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ को पत्र लिख कर प्रस्ताव भेजेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here