उत्तराखंड : गणेश गोदियाल को फिर सौंपी जा सकती है कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की कमान!

देहरादून : उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल समेत जिन राज्यों में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा वहां के अध्यक्षों से सोनिया गांधी ने इस्तीफा मांगा था जिसके बाद गणेश गोदियाल ने इस्तीफा दे दिया था. वहीं अभी ये सीट खाली है और साथ ही अभी तक कांग्रेस ने नेता प्रतिपक्ष का चयन भी नहीं किया है। इनके मंथन के बीच खबर है कि गणेश गोदियाल को जल्द फिर से प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी पर बैठाया जा सकता है।

बता दें कि कांग्रेस की हार के बाद गणेश गोदियाल ने हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपना त्यागपत्र हाईकमान को सौंपा था लेकिन अब खबर है कि शीर्ष नेतृत्व गोदियाल को फिर से उत्तराखंड प्रदेश अध्यक्ष की बागडोर सौंप सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हाईकमान ने विधानसभा चुनाव में पार्टी के हारने के कारणों की समीक्षा के साथ ही तत्कालीन प्रदेश अध्यक्षों के कामकाज का भी रिव्यू किया है। अन्य प्रदेशों के मुकाबले उत्तराखंड प्रदेश अध्यक्ष रहे गणेश गोदियाल को सबसे कम महज 6 महीने का कार्यकाल मिला था। इस दौरान गोदियाल ने संगठन की मजबूती के लिए अथक प्रयास किए और काम किए।

इसी के साथ कई नए कार्यकर्ताओं को पार्टीसे जोड़ने का काम किया जिससे वो गोदियाल को एक और मौका दे सकते हैं। चुनाव भी वो कम वोटों के अंतर से हारे। प्रदेश की 40 से अधिक विधानसभाओं तक पहुंचकर गोदियाल ने कार्यकर्ताओं को चुनाव में जीत का हौसला दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here