2019 लोकसभा चुनाव : इस बार पोस्टल बैलेट से बम्पर वोटिंग, 23 को फैसला

देहरादून : लोकसभा चुनाव 2019 के मतगणना की उल्टी गिनती शुरू हो गयी है। 23 मई को देश के सभी जिला मुख्यालय पर मतगणना के जरिए लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित किये जायेंगे। जिसकी तैयारियों में निर्वाचन आयोग लगा हुआ है…बात अगर उत्तराखंड की करें तो उत्तराखंड की 5 लोकसभा सीटों के नतीजों पर भी उत्तराखंड के साथ देश की नजरें लगी हुई है। लेकिन उत्तराखंड में इस बार रिकॉर्ड पोस्टर बैलेट से मतदान हुआ है, जिससे उत्तराखंड के सियासी गलियारों में इस बात की चर्चा है कि बम्पर पोस्टर बैलेट के मतदान के मायने क्या हैं।

उत्तराखंड की 5 लोक सभा सीटों पर हुए मतदान के नतिजो पर जहां सकी नजरें टिकी हुई है वहीं 2014 के लोकसभा चुनाव के मुकाबले इस बार पोस्टर बैलेट से बम्पर वोटिंग के नतीजों पर भी सबकी नजरें टिक गई है कि आखिरकार इस बार जो बम्पर पोस्टर बैलेट से मतदान हुआ है उसके नतीजे किस दल के हक में जाते हैं। 2014 में जहां महज 18 490 पोस्टर बैलेट मतगणना से पहले निर्वाचन आयोग के पास पहुंचे थे वहीं इस बार अभी तक 77 हजार 475 पोस्टल बैलेट 11 मई तक निर्वाचन आयोग को मिले हैं। जबकि अभी ये आंकड़ा और ऊपर जाने की उम्मीद है. 23 मई को मतगणना के दिन सुबह 8 बजे तक पोस्टल बैलेट रिसीव किये जाएंगे। ग्राफिक के जरिए एक नजर डालते हैं कि किस लोकसभा सीट पर कितने पोस्टर बैलेट अभी तक प्राप्त हो चुके हैं।

11 मई तक लोकसभा वार वापिस प्राप्त पोस्टल बैलेट

– टिहरी लोक सभा सीट पर अभी तक करीब 14448 पोस्टल बैलेट रिसीव किये गए है।

– गढ़वाल लोकसभा सीट पर अभी तक करीब 25224 पोस्टल बैलेट रिसीव किये गए है।

– अल्मोड़ा लोकसभा सीट पर अभी तक करीब 19845 पोस्टल बैलेट रिसीव किये गए है।

– नैनिताल-उधमसिंह नगर लोकसभा सीट से अभी तक करीब 10565 पोस्टल बैलेट वापिस आये है।

– हरिद्वार लोकसभा सीट पर अभी तक करीब 7393 पोस्टल बैलेट वापिस आये है।

पोस्टर बैलेट से बम्फर वोटिंग के आंकडो को अगर और बारिके से समझे तो 2014 में 84 हजार 972 सर्विस वोटर में से 18 हजार 940 वोट की ही गिनती हुई थी,जगकि इस बार 90 हजार 845 सर्विस मतदाताओं में से 77 हजार 475 पोस्टर बैलेट प्राप्त हो चुके है,जिसे राजनैतिक दल इस अपने लिए मुफिद भी मान रहे है,भाजपा का कहना कि सर्विज वोटरों में हमेशा से ही भाजपा को एकतरफा वोट मिलते आए है और इस बार भी यही उम्मीद पार्टी को है वहीं कांग्रेस कुछ आंकणो से घबराई हुई है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here