उत्तराखंड : केदारनाथ के बाद यहां उतरा चिनूक हेलीकॉप्टर, ये है तैयारी

 

 

चमोली : कुछ दिन पहले ही दुनिया के बड़े और ताकतवर हेलीकाॅप्टरों में शामिल चिनूक ने केदारनाथ धाम में लैंड किया था। चिनूक यहां से दुर्घटनाग्रस्त हुए एमआई-17 के मलबे को लेकर गया था। अब चिनूक हेलीकाॅप्टर ने गौचर हवाई पट्टी पर भी लैंड किया है। भारतीय सेना का चिनूक हेलीकॉप्टर मंगलवार से गौचर हवाई पट्टी से धाम भारी मशीनें पहुंचाएगा। भारतीय सेना का यह मालवाहक हेलीकॉप्टर गौचर हवाई पट्टी पर पहुंच चुका है।

केदारनाथ में भी हेलीकॉप्टर की सफल लैंडिंग और मशीनों को उतारने के लिए प्रशासन और डीडीएमए की ओर से सभी जरूरी कार्रवाई पूरी कर ली है। इससे तीन भारी मशीनें, जिसमें डंपर, हाइड्रा और जेसीबी रखी गई हैं, जिन्हें पार्ट्स के रूप में केदारनाथ पहुंचाया जाएगा।

चिनूक हेलीकॉप्टर ने 17 अक्तूबर को केदारनाथ में एमआई-26 हेलीपैड पर सफल लैंडिंग की गई थी। चिनूक सीएच-47 हेलीकॉप्टर 20 हजार फीट से भी अधिक ऊंचाई पर उड़ान भर सकता है। एक समय में 12 टन से अधिक वजन अपने साथ ले जा सकता है। मशीनों के धाम पहुंचते ही पुनर्निर्माण के दूसरे चरण के कार्य शुरू कर दिए जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here