उत्तराखंड : जब बच्चे ने अधिकारी की कुर्सी पर बैठकर ली DIG के साथ सेल्फी

नैनीताल : नैनीताल पुलिस ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट में कुछ तस्वीरें शेयर की है जिसमे से बच्चे और डीआईजी की फोटो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। फोटो में बच्चा अधिकारि की कुर्सी पर बैठा है और उसके बगल में डीआईजी नीलेश आनंद भरणे खड़े हैं। बच्चा डीआईजी के साथ सेल्फी ले रहा है। ये तस्वीर है हल्द्वानी परिसर में नवनिर्मित बालमित्र पुलिस थाने का उद्घाटन के समय की। बता दें कि ये बालमित्र थाना कुमाऊं का पहला थाना है जहां बच्चे खेल कूद के साथ पढ़ाई भी करेंगे।

आपको बता दें कि बालमित्र थाने का निर्माण उत्तराखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग के दिशा निर्देशों एवं मानकों के अनुरूप किया गया है। इसका उद्देश्य उन बच्चों पर से मानसिक तनाव को कम करना है जिन्हें किन्हीं कारणों से पुलिस थाना आना पड़ता है। अनजाने में अपनी दिशा से भटक जाने वाले बच्चों को इन थानों के माध्यम से सही दिशा देने के प्रयास किये जायेंगे

बाल मित्र थाने में 01 महिला उपनिरीक्षक 01 महिला पुलिस कर्मी की नियुक्ति की गई है तथा बाल आयोग के सदस्य व बेहतर काउंसलर उपलब्ध होंगे। जो कि बच्चों की काउंसलिंग कर उन्हें अपराध से दूर रखने की कोशिश करेंगे। बाल मित्र थाने में बच्चों की सुविधा और उनके खेलने के लिए झूलों और खिलौनों की व्यवस्था भी की गई है। बाल मित्र थाने में बच्चो को Good Touch और Bad Touch में अंतर के बारे में भी जानकारी व जागरूक किया जायेगा। सहायता के लिए पुलिस ने 1098, 112 नंबर जारी किया है।

जिला बाल संरक्षण समिति हल्द्वानी के नंबर 9756490227 तथा बाल कल्याण समिति नंबर 9557761277 उपलब्ध है। पुलिस अधिकारियों को किशोर न्याय अधिनियम 2015 (बच्चों की देखभाल एवं संरक्षण) के अनुरूप कार्रवाई करने तथा बच्चों के हित में अपनी भूमिका निभानी है।
यह भी सुनिश्चित किया जायेगा कि बच्चों के साथ थानों में मित्रवत व्यवहार किया जायेगा और उनके हितों को प्राथमिकता दी जायेगी। सीआइडी और यूनिसेफ के द्वारा बाल मित्र थाना के लिए 21 मानक बनाये गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here