उत्तराखंड: 1 लाख 75 हजार में बुक कराई बस, तीन दिन भूखे रहकर पहुंचे, पुलिस ने लगाया अड़ंगा

हल्द्वानी: लाॅकडाउन में फंसे लोगों जब कोई राह नजर नहीं आई, तो कई लोग खुद ही अपनी व्यवस्थाओं से गांव के लिए चल पड़े। नैनीताल जिले के ओखलकांडा ब्लाॅक के युवा गुजरात से 1 लाख 75 हजार में बस बुक कराकर ऊधमसिंह नगर पहुंचे। लेकिन, वहां उनको पुलिस ने रोक दिया। इसके बाद भीमताल विधायक रामसिंह कैड़ा ने खुद जाकर युवाओं को बस समेत हल्द्वानी पहुंचाया।

गुजरात के केवडिया से आठ मई को नैनीताल और चम्पावत जनपद के 48 युवाओं को लेकर बस नैनीताल के लिए रवाना हुई। 28 यात्रियों को छोडने के बाद सुबह साढ़े 11 बजे बस नैनीताल जनपद की सीमा पर पहुंची, जहां पर पुलिस ने बस रोक दी। उसमें सवार युवकों ने पुलिस से उन्हें जाने देने का निवेदन किया, लेकिन पुलिस का कहना था कि उनके पास नैनीताल जनपद में प्रवेश की अनुमति नहीं है।

तीन घंटे के बाद मौके पर पहुंचे भीमताल के विधायक राम सिंह कैड़ा ने पहाड़ के युवाओं को ला रही बस को रोके जाने पर कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों से बात कर बस को रवाना करने के लिए कहा, जिसके बाद बस रवाना की जा सकी। रास्ते में कहीं भी उन्हें खाना नहीं मिला, इस कारण उनको तीन दिन भूखा रहना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here