उत्तराखंड : देवर ने किया दुष्कर्म, दहेज के लिए पीटते हैं ससुराली, CM से की शिकायत

हल्द्वानी: पुलिस के शिकायत दर्ज नहीं करने पर महिला को मजबूरन सीएम से शिकायत करनी पड़ी। पत्र मिलते ही सीएम ने पुलिस को कार्रवाई के निर्देश दिए। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत की सख्ती के बाद मामले में पुलिस ने ससुरालियों के खिलाफ दहेज प्रताड़ना, मारपीट और देवर के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

यह बनभूलपुरा का मामला है। लाइन नंबर-17 बनभूलपुरा निवासी सीमा ने गत माह 16 जनवरी को मुख्यमंत्री को एक शिकायती पत्र भेजा था। महिला का कहना है कि उसका विवाह 15 साल पहले शादाब पुत्र नजाकत के साथ हुआ, जिससे उसके चार बच्चे भी हैं। महिला का आरोप है कि उसके मूलरूप से बिहार निवासी होने के चलते पति के अलावा ससुर नजाकत, देवर भूरा उर्फ मोहसिन, सास रिहाना उसे परेशान करते रहते हैं।

महिला ने यह भी आरोप लगाया कि उसके साथ आए दिन मारपीट की जाती रही है। इतना ही नहीं उसे कई-कई दिन भूखा-प्यासा भी रखा गया है। महिला का आरोप है कि गत वर्ष 5 दिसम्बर को उसका देवर भूरा जबरन उसके कमरे में घुस आया और जोर जबर्दस्ती करने लगा। उसके शोर मचाने पर सास रिहाना ने कमरे का दरवाजा बंद कर दिया। इसके बाद भूरा ने उसके साथ दुष्कर्म किया।

पति से शिकायत की तो उसके साथ मारपीट की गई। इतना ही नहीं उससे दहेज में पांच लाख की मांग करते हुए तलाक दे दिया गया। पुलिस में शिकायत करने पर उसे जान से मारने की धमकी दी गई। इस पर महिला ने मुख्यमंत्री को शिकायती पत्र लिखा। मुख्यमंत्री कार्यालय से मामले की जांच बनभूलपुरा थाना पुलिस को सौंपी गई। जांच में तथ्य सही पाए जाने पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here