उत्तराखंड : फूड प्वाइजनिंग मामले में बड़ा खुलासा, इस जहरीले केमिकल ने किया बीमार!

 

रुड़की: रुड़की में कुट्टू का आटा खाने से बीमार होने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। अब तक यह माना जा रहा था कि सभी लोग कुट्टू का आटा खाने के बाद बीमार हुए हैं। लेकिन, डाॅक्टरों की मानें तो मामला कुछ और ही नजर आ रहा है। अब तक 100 से ज्यादा लोग बीमार हो चुके हैं। हालांकि अच्छी बात यह है कि इनमें से ज्यादातर लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं।

इस मामले में चौंकाने वाली बात यह है कि जो भी लोग बीमार हुए हैं। सभी में एक जैसे लक्षण हैं, लेकिन फूड प्वाइजनिंग के लक्षण किसी में नजर नहीं आ रहे हैं। बीमार लोगों में केमिकल रिएक्शन हो होने वाली दिक्कतें दिखाई दे रही हैं। सभी लोगों को इससे लोगों के शरीर में कंपन और घबराहट हो रही है।

जानकारों का मानना है कि ये आर्गेनो फास्फोरस के लक्षण हो सकते हैं। अस्पताल पहुंचे सभी मरीजों ने हाथ-पैर में कंपन, चक्कर आने, सिरदर्द और उल्टी की शिकायत की है। सीएमओ डॉ. एसके झा ने बताया कि आर्गेनो फास्फोरस कंपाउंड आधारित दवाओं के चलते लोगों के बीमार होने की का अनुमान है। यह भी माना जा रहा कुट्टू के आटे को कीड़ों से बचाने के लिए स्टोर या दुकानों में लोगों ने दवाओं का प्रयोग किया हो, उससे भी ऐसा हो सकता है।

बहरहाल कूट्टू के आटे के सैंपल भेजे गए हैं। उससे साफ हो जाएगा कि किसी वजह से लोग बीमार हुए हैं। एक वजह यह भी मानी जा रही है कि खाद्य पदार्थों को सुरक्षित रखने के लिए ज्यादातर लोग गैमक्सिन का प्रयोग करते है। ज्यादा मात्रा में गैमक्सिन के प्रयोग के कारण लोगों पर इसके केमिकल रिएक्शन हुआ हो। फिलहाल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। इसके बाद ही मामले में कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here