उत्तराखंड बिग ब्रेकिंग : CBSE और ICSE बोर्ड के सभी स्कूलों में संस्कृत की पढ़ाई अनिवार्य

देहरादून : उत्तराखंड शिक्षा विभाग से बड़ी खबर है. जी हां आपको बता दें कि राज्य में सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड संचालित सभी स्कूलों में कक्षा 3 से लेकर 8वीं क्लास तक संस्कृत अनिवार्य कर दी गई है. शासन द्वारा जारी आदेश में सभी संबंधित स्कूलों को आदेश का पालन करने की बात कही गई है.

आपको बता दें कि शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने मंगलवार को इस आशय का शासनादेश जारी करने के निर्देश शिक्षा सचिव को दिए थे। शिक्षा मंत्री ने कहा था कि संस्कृत को सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड के स्कूलों के लिए भी अनिवार्य किया जाएगा।  शिक्षा मंत्री ने कहा था कि संस्कृत हमारी द्वितीय राजभाषा है। इसे बढ़ावा देने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन से समस्त स्कूलों में अनिवार्य करने के निर्देश दिए गए हैं। अगले शिक्षा सत्र से इसे अनिवार्य विषय के रूप से हर स्कूल में पढ़ाया जाएगा।

शिक्षा मंत्री ने कहा था कि सरकार के निर्देश का पालन न करने वाले स्कूलों की मान्यता समाप्त करने संबंधी कार्यवाही की जाएगी। शिक्षा मंत्री ने कहा कि संस्कृत शिक्षा को स्कूलों में पढ़ाए जाने से द्वितीय राजभाषा को बढ़ावा मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here