हेली सम्मेलन कराने वाला पहला राज्य बना उत्तराखंड, उड़ान योजना पर मिलेगी सब्सिडी

देहरादून: उत्तराखंड में देश के पहले हेलीकॉप्टर सम्मेलन का आयोजन किया गया। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य में हेली सेवाओं के विस्तार की अपार संभावनाए हैं। उन्होंने कहा कि उड़ान योजना में चिह्नित स्थानों के लिए हेली सेवाएं देने पर राज्य सरकार केंद्र से मिलने वाली सब्सिडी के अतिरिक्त भी सब्सिडी देगी। सहस्त्रधारा हेली ड्रोम में हेलीकॉप्टर समिट-2019 का मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उद्घाटन किया।

सम्मेलन को संबोधित करते हुए सीएम रावत ने कहा कि उत्तराखंड की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए यहां हेली सेवाएं बहुत जरूरी हैं। सीमांत क्षेत्रों तक सड़क मार्ग से जाने में 20 घंटे तक लग जाते हैं, जबकि हेलीकाप्टर से सिर्फ डेढ़ घंटे में पहुंचा जा सकता है। उत्तराखंड के दूरस्थ क्षेत्रों की प्राकृतिक सुदंरता का कोई मुकाबला नहीं है। उत्तराखंड में धार्मिक पर्यटन के साथ ही खर्चीले पर्यटकों की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हो रही है। हमारे प्रयासों से पिछले कुछ समय में फिल्म शूटिंग के लिए भी उत्तराखंड पंसदीदा गंतव्य बनता जा रहा है।
उन्होंने बताया कि इन्वेस्टर्स समिट के समय मुम्बई में फिल्मकारों के साथ बैठक की गई थी। फिल्म निर्माता महेश भट्ट पहले रोमानिया में अपनी फिल्म की शूटिंग करना चाहते थे। हमने उन्हें उत्तराखंड आमंत्रित किया। वे यहां के बहुत से दूरस्थ क्षेत्रों तक घूम कर आए। वे यहां की प्राकृतिक सुंदरता से बहुत प्रभावित हुए। आतिथ्य उत्तराखंड के स्वभाव में है। देश-विदेश से बहुत से लोग, यहां के दूरस्थ क्षेत्रों तक जाना चाहते हैं। लेकिन उनके पास समय की कमी होती है। इसलिए यहां हेली सेवाओं की बहुत जरूरत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here