उत्तराखंड : 3 महीने बाद मां-बाप ने खुदवाई बेटे की कब्र, हैरान कर देने वाली वजह

काशीपुर में तीन माह पूर्व संदिग्ध परिस्थितियों में युवक की मौत के 3 महीने बाद मृतक के माता पिता की शिकायत के चलते स्थानीय प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने आज काशीपुर में कब्रिस्तान में युवक की कब्र की खुदाई करवा कर शव को बाहर निकलवाया था था पंचायतनामा पर कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

परिजनों ने नईम की पत्नी पर जताया हत्या का शक 

दरअसल उत्तर प्रदेश के जिला मुरादाबाद की ठाकुरद्वारा तहसील के वार्ड नंबर 20 मोहल्ला छीपीयान फतेहउल्लाह गंज के रहने वाले नईम अहमद पुत्र मुजीब अहमद की शादी कुछ वर्ष पूर्व जसपुर की रहने वाली मेहताब के साथ हुई थी। मृतक नईम अहमद काशीपुर के मोहल्ला अली खान पिछले 7 सालों से अपने निजी मकान में अपनी पत्नी और 3 छोटी बच्चियों के साथ रह रहा था. नईम इनवर्टर बैटरी का काम करके अपने परिवार की आजीविका चलाता था। बीते 22 दिसंबर 2018 को नईम के संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी जिसके बाद मृतक की पत्नी ने नईम को दफन कर दिया था लेकिन परिजनों ने नईम की पत्नी पर हत्या का शक जताया.

3 महीने बाद कब्रिस्तान पहुंचकर मृतक नईम की कब्र की खुदवाई

मृतक के मामा नफीस अहमद के मुताबिक नईम के परिजनों उसका पेट फूला होने के कारण शक हुआ कि नईम की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई है। जिसके बाद मृतक नईम के परिजनों के द्वारा काशीपुर न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर मृतक नईम की पत्नी मेहताब द्वारा जहर देकर मारने की आशंका जताई गई थी। जिसके बाद अदालत के आदेश पर पुलिस ने आज 3 महीने बाद कब्रिस्तान पहुंचकर मृतक नईम की कब्र की खुदाई करवा कर नईम के शव को बाहर निकलवाया तथा उसका पंचनामा भरकर मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here