उत्तराखंड: विश्वविद्यालय में गेट फांदकर कुलपति सचिवालय में घुसे छात्र, ये है वजह

श्रीनगर: छात्र संघ चुनाव की मांग अब जोर पकड़ती जा रही है। पिछले दिनों डीएवी कॉलेज में छात्रों ने जमकर हंगामा किया था। अब केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय में भी छात्रों ने चुनाव की मांग को लेकर आंदोलन शुरू कर दिया है। चुनाव कराने की मांग को लेकर छात्रों ने कॉलेज में जमकर हंगामा किया। छात्र गेट फांदकर कुलपति सचिवालय में घुस गए और जमकर हंगामा किया।

छात्र संघ चुनाव और सभी परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद ही दीक्षांत समारोह आयोजित करने की मांग को लेकर एचएनबी गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय के छात्रों ने मंगलवार को जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान छात्रों ने न केवल कुलपति के खिलाफ नारेबाजी की बल्कि छात्र गेट फांदकर कुलपति सचिवालय परिसर में घुस गए। हंगामा बढ़ता देख कुलपति अन्नपूर्णा नौटियाल ने छात्रों से वार्ता की। कुलपति ने कहा कि वर्तमान परिस्थिति देखते हुए चुनाव मुश्किल हैं। लेकिन छात्र उनकी बात से संतुष्ट नहीं हुए।

छात्रों का कहना है कि यदि 25 नवंबर तक विवि प्रशासन ने मांगों पर कोई फैसला नहीं लिया तो सभी छात्र संगठन दीक्षांत समारोह का विरोध करेंगे। इसके लिए संगठनों से वार्ता चल रही है। जल्द ही आगे की रणनीति तय की जाएगी। एक दिसंबर को गढ़वाल विवि का दीक्षांत समारोह होना है। छात्रों का कहना है कि अभी पीजी में सभी संबंधित कॉलेजो के परीक्षा परिणाम घोषित नहीं हुए हैं। ऐसे में छात्रों को गोल्ड मेडल किस आकलन से दिया जाएगा। यदि कोई छात्र बाद में टॉपर आता है तो उसे गोल्ड मेडल दिया जाएगा या नहीं, ये भी बड़ा सवाल है।

छात्रों का कहना है कि पीजी के 96 प्रतिशत रिजल्ट खुल गए हैं। कुछ कॉलेजों ने सेशनल परीक्षा के रिजल्ट नहीं भेजे हैं, इसलिए रिजल्ट नहीं खुल पाए हैं। ऐसे में पूरी तरह से रिजल्ट न आने तक दीक्षांत समारोह कराने का कोई औचित्य नहीं है। उन्होंने कहा कि एक दिसंबर से पूर्व विवि चुनाव के संबंध में निर्णय ले अथवा छात्र आंदोलन को मजबूर होंगे। उनका कहना है कि इसके तहत एक दिसंबर को होने वाले दीक्षांत समारोह का विरोध किया जाएगा। वहीं, छात्र नेताओं का कहना है कि छात्र राजनीति से उभर कर कई नेता देश और प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, लेकिन विवि ने छात्रसंघ चुनाव को बंद कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here