अनोखा रेस्टोरेंट- जितना मर्जी उतना खाएं और बिल अपनी मर्जी से चुकाएं! कोई नहीं टोकेगा

आप किसी होटल या रेस्टोरेंट में खाना खाने जाते हैं तो आप सबसे पहले मेंन्यू और रेट पर नजर डालते हैं. फेमिली हो या अकेले हर कोई चाहता है कि कम बजट में अच्छे से अच्छा खाना खा सकें. ऐसे में हर किसी की कोशिश रहती है कि मेन्यू को बजट में रखकर चुनें.

लेकिन अगर हम आपसे कहें कि भारत में एक ऐसा रेस्टोरेंट है जहां आप अपनी मर्जी से कुछ भी खाएं आपसे ज्यादा बिल नहीं लिया जाएगा बल्कि आप अपनी पसंद से बिल का भुगतान कर सकते हैं. जी हां खाना खाने के बाद आपका जो भी बिल देने का मन करें आप चुका सकते हैं.

केरल के वित्त मंत्री थॉमस की फेसबुक पोस्ट के मुताबिक केरल के अलाप्पुझा में चेरथला राष्ट्रीय राजमार्ग के पाथीराप्पल्ली के पास ये अनोखा रेस्टोरेंट खुला है, जहां आपको अपनी मर्जी से खाने और अपनी मर्जी से बिल चुकाने की आजादी मिल रही है. थॉमस इसाक के पोस्ट के मुताबिक रेस्टोरेंट में कोई कैशियर नहीं है जो आपसे बिल मांगेगा.

आप अपनी इच्छा से जितना चाहें, रेस्टोरेंट के काउंटर पर रखे बॉक्स में डाल सकते हैं. अगर आपने बॉक्स में कुछ नहीं भी डाला तो भी कोई आपको टोकने नहीं आएगा. वित्तमंत्री इसाक के पोस्ट के मुताबिक ‘जनकीय भक्षणशाला’ यानि जनता भोजनालय का उद्देश्य ‘Eat as much as you want, give as much as you can.’ यानी जितना चाहें उतना खाएं, जितनी मर्जी उतना भुगतान करें.

इस रेस्टोरेंट में रोजाना करीब 2000 लोगों के लिए खाना तैयार किया जाता है, जिसकी लागत करीब 11.25 लाख रुपए आती है. केरल के IRTC की मदद से वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट और वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के लिए यहां 6 लाख रुपए की लागत से प्लांट सेटअप किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here