केंद्रीय मंत्री अनिल दवे का निधन, ये मेरे लिए निजी क्षति- मोदी

केंद्रीय पर्यावरण राज्य मंत्री अनिल माधव दवे का दौरा पड़ने से निधन हो गया. अनिल दवे 61 वर्ष के थे। अचानक स्वास्थ बिगड़ने से उंहे दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था जिसके बाद उंहोंने वही आखिरी सांस ली। आपको बताते चलें कि अनिल दवे 2009 में मध्य प्रदेश राज्यसभा के मेंबर थे। लंबे वक्त से आरएसएस से जुड़े रहे। नर्मदा और पर्यावरण की बेहतरी के लिए उन्होंने अच्छा काम किया।

अनिल दवे के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गहरा शौक व्यक्त करते हुए कहा कि यह हमारी निजी क्षति है और  ‘दोस्त और एक आदर्श साथी के तौर पर अनिल दवे जी के निधन से दुखी हूं। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। लोक हित के काम के लिए दवेजी को याद रखा जाएगा। कल शाम ही वो मेरे साथ थे। हमने कुछ पॉलिसी इश्यू पर चर्चा भी की थी। उनका जाना मेरे लिए निजी क्षति है। दवे का जन्म 6 जुलाई, 1956 को उज्जैन में हुआ था। उन्होंने गुजराती कॉलेज इंदौर से एम.कॉम किया था। वे संघ प्रचारक रहे और शादी नहीं की थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here