त्रिवेंद्र सरकार ने दी प्राइवेट स्कूल में पढ़ रहे बच्चों के अभिभावकों को बड़ी राहत, कहा- इस महामारी की घड़ी में हम साथ

देहरादून । उत्तराखंड सरकार ने प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों के अभिभावकों को आज बड़ी सौगात दी है। जी हां ये सौगात प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों की फीस कटौती को लेकर दी गयी है। उत्तराखंड में कई सामाजिक लोगों के साथ पेरेंट्स एसोशिएशन से जुड़े लोग भी फीस माफ करने की मांग सरकार से कर रहे थे जिस पर सरकार ने फैसला लिया और अभिभावकों को राहत दी।

बता दें कि अभिभावकों के साथ उत्तराखंड भाजपा के कई नेता भी 3 माह की फीस माफ करने की मांग कर रहे थे। शिक्षा मंत्री ने आज मुख्यसचिव के साथ सभी जिलों के जिला अधिकारियों के वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से वार्ता कर निर्देश दिए हैं कि कोई भी प्राइवेट स्कूल ट्यूशन फीस के अलावा फिहाल कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं लेगा।

शिक्षा मंत्री का कहना कि इस महामारी की घड़ी में वह अभिभावकों के साथ खड़े हैं,इसलिए उन्होंने निर्णय लिया है कि सभी ट्यूशन फीस के अलावा कोई अतिरिक्त शुल्क नही ले पाएंगे । यानी साफ है कि प्राइवेट स्कूलों के अभिभावकों को शिक्षा मंत्री ने बड़ी सौगात दी दे है। जिसके तहत प्राइवेट स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को अब स्कूल बंद रहने के दौरान बस का शुल्क ,कम्प्यूटर शुल्क,लाइब्रेरी, स्पोर्ट्स एक्टिविटीज शुल्क के साथ कई और प्रकार के शुल्क जो अभिभावकों से लिये जाते हैं वह नहीं देने पड़ेंगे।

इसके साथ ही शिक्षा मंत्री ने ये भी तय किया है कि हालात सामान्य होने के बाद अभिभावकों से ट्यूशन फीस एक साथ न लेकर फीस किस्तों में ली जयेंगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here