ऐसे कोई हेलमेट नहीं जो इनके सिर पर आ जाए, पुलिस कन्फ्यूज- चालान काटें या छोड़ दें

नया मोटर व्‍हीकल एक्‍ट लागू करने के बाद लोग जहां इस एक्ट का विरोध कर रहें हैं तो वहीं कई लोग चालान से बचने के लिए संबंधित दस्तावेज बनाने में जुट गए हैं तो वहीं कई ऐसे लोग भी हैं जिन्हें की चालान का भय भी नहीं वो अभी भी बिना दस्तावेंजों के फर्राटा भरते नजर आ रहे हैं.

पुलिस कन्फ्यूज- चालान काटें या छोड़ दें

लेकिन गुजरात के छोटा उदेपुर जिले के बोडेली कस्‍बेसे एक अनोखा मामला सामने आया है जिसके सामने ट्रैफिक पुलिस भी असमंजस में है कि करें तो क्या करें. दरअसल गुजरात की सड़कों पर एक शख्‍स बिना हैलमेट के गाड़ी चलाते हुए पकड़ा गया, जिसके पास पूरे गाड़ी के कागज थे लेकिन हेलमेट नहीं था और हेलमेट न पहनने का जो कारण युवक ने पुलिस को बताया उसे सुन पुलिस हैरान रह गई और उलझन में पड़ गई कि उसका चालान काटा जाए या छोड़ा जाए.

ऐसे कोई हेलमेट नहीं जो इनके सिर पर आ जाए

दरअसल ज़ाकिर ने पुलिस को बताया कि वह कोई भी हैलमेट पहन नहीं सकता, क्‍योंकि कोई भी हैलमेट उसके सिर में आता ही नहीं है. जाकिर ने बताया कि उसने शहर की सभी दुकानों पर जाकर देखा, लेकिन उसके सिर में आ जाए ऐसा कोई भी हैलमेट नहीं मिला. ज़ाकिर का कहना है कि मैं कानून की इज्‍जत करने वाला शख्‍स हूं. मैं भी हैलमेट पहनना चाहता हूं, लेकिन मुझे ऐसा हैलमेट मिलता ही नहीं, जो मेरे सिर में फिट आ सके.

परिवार को चिंता- कब तक जुर्माना भरेंगे

ज़ाकिर का कहना है कि मेरे पास सभी कागजात हैं जो मैं हमेशा साथ रखता हूं लेकिन हेलमेट का क्‍या करूं. मैंने इस बारे में पुलिस को भी बताया है. ज़ाकिर की कस्‍बे में फलों की दुकान है. उनका परिवार अब उनकी इस समस्‍या को लेकर चिंतित है. वह कहते हैं कि ऐेसे वह कब तक जुर्माना भरेंगे.

बोडेली ट्रैफिक ब्रांच सब इंस्‍पेक्‍टर वसंत राठवा का कहना है कि ये गजब की समस्या है और इस समस्या को देखते हुए पुलिस ने उनका चालान नहीं काटा. वह कानून का सम्‍मान वाले शख्‍स हैं. उनके पास सभी वैध कागजात हैं, लेकिन हैलमेट की समस्‍या अनोखी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here