इस बार किसी दुकान या दफ्तर नहीं बल्कि कोतवाली पहुंचे DM दीपक रावत…जानिए क्यों?

हरिद्वार- हरिद्वार के जिलाधिकारी दीपक रावत एक बार फिर चर्चा में आए. अपने कड़क स्वभाव और एक्शन के लिए जाने जाने वाले डीएम दीपक रावत ने इस बार किसी दुकान या दफ्तर का नहीं बल्कि नगर कोतवाली का निरीक्षण किया।

कोतवाली पहुँचने पर एसएसपी हरिद्वार कृष्ण कुमार वीके ने उनका स्वागत किया। जिलाधिकारी ने कोतवाली में तैनात पुलिसकर्मियों के हथियार, रिपोर्ट रजिस्टर और मालखाने के साथ-साथ कोतवाली परिसर का भी जायजा लिया।

जिलाधिकारी ने कोतवाली क्षेत्र में बढ़ती जनसँख्या और बढ़ते क्षेत्रफल को देखते हुए उसका एक नक्शा बनाने को कहा जिससे तुरन्त घटनास्थल पर पहुँच कर समस्या का समाधान किया जा सके। साथ ही डीएम ने कोतवाली में मरम्मत की समस्या के लिए फंड दिलवाने की बात भी कही।

डीएम ने बताया कि मजिस्ट्रेट द्वारा थाना या कोतवाली का निरिक्षण करने का मुख्य उद्देश्य क्राईम को खत्म की रोकथाम के साथ-साथ जो भी कानून की धाराएं हैं उसमें ठीक प्रकार से कार्यवाही हो ये उद्देश्य है। यदि कोई क्राईम होता है तो उसका समय पर खुलासा हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here