उत्तराखंड के इस एसडीएम की मसूरी से लेकर विदेशों तक हो रही है तारीफ

टनकपुर : कहते हैं कि अगर आप अपने कर्तव्यों का पूरी निष्ठा और ईमानदारी से पालन करते हैं तो आपके यश को कोई भी ताकत रोक नहीं सकतीl ऐसा ही हुआ है एसडीएम हिमांशु कफल्टिया के साथl आज जहाँ पूर्णगिरी तहसील में तो वो कम समय में ही लोकप्रिय हो गए हैं। वहीं अमेरिकन मूल के दो स्कूली भाई बहन की मदद कर उनके चर्चे देश की सीमा के पार भी होने लगे हैं। ये हम नही कह रहे है, ये वो धन्यवाद संदेश कह रहा है जो मंसूरी के उस स्कूल से आया है जिसमे अमेरिकन मूल के ‘रोज’ भाई बहन पढ़ते हैंl

मंसूरी के वुड स्टाक स्कूल के इरिक रॉबर्ट्स ने एसडीएम हिमांशु कफल्टिया को 21 अक्टूबर को प्रेषित एक संदेश में कहा है कि 16 अक्टूबर को हमारे स्कूल के छात्र कोलार्डो रिवर रोज व अल्ट्रावायलेट रोज बनबसा के रास्ते से होकर नेपाल के काठमांडू में अपने माता पिता के पास जा रहे थे, जिन्हें बॉर्डर पर कुछ खामियों के कारण इमिग्रेशन चैक पोस्ट पर रोक दिया गया। ऐसे समय में आपने उन बच्चों को अपने संरक्षण में पांच दिन रखकर उनकी सभी सुख, सुविधाओं तथा सुरक्षा का पूरा ध्यान रखते हुए उनके माता पिता तथा स्कूल प्रबंधन से भी लगातार संपर्क बनाए रखा। इसके अलावा उन बच्चों को नेपाल के काठमांडू में उनके माता पिता तक सुरक्षित तरीके से पहुचाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की। इस महान कार्य के लिए दोनो बच्चे, उनके माता पिता ज्योति रोज, मार्क रोज तथा वुड स्टाक स्कूल प्रबंधन आपका हार्दिक अभिनंदन करते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here