उत्तराखंड में ये बना हॉट टॉपिक : पहले डिस्चार्ज…फिर भर्ती, AIIMS को भी नहीं पता कैसे हुआ ?

देहरादून: कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज और उनके पूरे परिवार समेत 22 लोगों की कोरोना रिपोर्ट पाॅजिटिव आई थी, जिसके बाद पूरे परिवार को एम्स में भर्ती कराया गया था। मामले में उस वक्त नया मोड़ आया जब एम्स ने एक दिन में ही पूरे परिवार को एम्स से डिस्चार्ज कर दिया। लेकिन, फिर कुछ ही घंटों बाद महाराज का पूरा परिवार एम्स में पहुंच गया।

बड़ा सवाल इसी पर उठ रहा है कि आखिर ऐसा क्या हुआ कि महाराज के परिवार को पहले कुछ ही घंटों में डिस्चार्ज कर दिया गया और फिर वापस भर्ती भी कर दिया गया। एम्स के डीन प्रो. यूबी मिश्रा ने महाराज फैमिली को डिस्चार्ज करने की जानकारी बाकायदा वीडियो के जरिए दी थी। एम्स से बयान भी जारी किया गया था।

लेकिन, महाराज फैमिली को फिर से भर्ती करने के बारे में कोई जानकारी ही नहीं दी गई। प्रो. यूबी मिश्रा ने फिर से भर्ती करने की बात तो स्वीकारी, लेकिन वो यह नहीं बताया कि किसके कहने पर महाराज और पूरे परिवार को फिर से भर्ती किया गया है। उनका कहना था कि उनको इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि ये कैसे हुआ ?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here