उत्तराखंड : आटा पीस रहा था दुकान मालिक, तभी आ धमका भालू, जानें फिर क्या हुआ?

चमोली: भालू के गांव के आसपास पहुंचने के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। उत्तराकाशी में भी इस तरह की घटनाएं आम हो रही हैं। अब चमोली में भी लगातार इस तरह के मामले सामने आने लगे हैं। चमोली जिले के पोखरी विकासखंड के चौंडी गांव में भोजन की तलाश में भटक रहा भालू आटा चक्की के अंदर पहुंच गया।

दुकान मालिक की जैसे ही उस पर नजर पड़ी वह हैरान रह गया। उसने भालू को देखा तो किसी तरह से अपने आप को सुरक्षित बाहर निकाल कर दुकान का दरवाजा बंद कर दिया। वन विभाग ने जाल में फंसाकर भालू को जंगल में छोड़ा ।

विकासखंड पोखरी के ग्राम ग्राम पंचायत चौंडी में जगमोहन सिंह बुटोला की आटा चक्की में खुले दरवाजे से भालू अंदर पहुंचा। आटा चक्की मालिक जगमोहन बुटोला ने बताया कि तत्काल चक्की के दरवाजे को बंद कर भालू को अंदर ही बंद कर दिया और सूचना वन विभाग को दी।

केदारनाथ वन प्रभाग नागनाथ रेंज के वन क्षेत्राधिकारी प्रदीप गौड़ ने बताया कि सूचना के बाद वन दारोगा आनंद रावत के नेतृत्व में वन कर्मी जाल लेकर चौंडी गांव जाकर भालू के बच्चे को जाल में फंसाने की कोशिश की दो बार हवाई फायर करने के बाद उन्हें भालू को पकड़ने में सफलता मिली। भालू लगभग आठ माह का है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here