मंत्री हरक सिंह को हाथी के सामने छोड़ भागे सुरक्षाकर्मी, फिर जोड़े हाथी के आगे हाथ और…

देहरादून: जैसा आपने हेडिंग में पढ़ है। वो बिल्कुल सच है। वन मंत्री हरक सिंह रावत ने खुद ये बात कही है। उन्होंने अपनी जुबानी, अपनी कहानी सुनाई। उन्होंने बताया कि कोटद्वार के रास्ते में उनका सामना हाथी से हुआ। फिर क्या था। उनके सुरक्षाकर्मी और ड्राइवर उनका साथ छोड़कर भाग खड़े हुए। दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। वन मंत्री ने आगे जो बताया वो बेहद चैंकाने वाला है।

हरक सिंह रावत ने बताया कि हाथी को देख उनकी सुरक्षा के लिए आई पायलट कार के सुरक्षा कर्मी और चालक वाहन छोड़कर भाग खड़े हुए। इतना ही नहीं हरक सिंह रावत ने बताया कि उनकी कार का चालक भी उनको छोड़कर भाग गया। उन्होंने बताया कि हाथी को देख वो भी बहुत डर गए थे। उन्होंने अपनी आंखें बंद कर ली।

भागने के बाद भगवान भरोसे मैंने भी आंखें बंद की और हाथ जोड़ लिए-मंत्री

वन मंत्री हरक सिंह रावत ने बताया कि वहां गाड़ी को मोड़ने की जगह नहीं थी। कार के चालक के भागने के बाद भगवान भरोसे मैंने भी आंखें बंद की और हाथ जोड़ लिए। हाथी उनकी कार की ओर आया और उनको नुकसान पहुंचाने के बजाए गाड़ी के साइड के शीशे को रगड़ता हुआ चला गया। तब जाकर उन्होंने राहत की सांस ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here