रुको वरना गोली मार दूंगा…पुलिस के पीछे पिस्टल लेकर दौड़ी पुलिस, ये पूरी कहानी

मेरठ : रुक जाओं नहीं तो गोली मार दूंगा. ऐसा कहते हुए हाथ में पिस्टल लिए दो पुलिसकर्मी भीड़ भरे बाजार में बाइक पर सवार दो अन्य पुलिसकर्मियों के पीछे हांफते हुए दौड़ रहे थे। जिसने भी ये नजारा देखा पहले तो कुछ समझ ही नहीं पाया। मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई. अक्सर इस तरह के नज़ारे फिल्मों में नजर आते हैं. भागने की कोशिश में बाइक स्लिप हो गई और दोनों पुलिस की वर्दी वाले धड़ाम हो गए, जिस पर भीड़ ने उन्हें पकड़ लिया। पीछे दौड़ रहे पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे तो पूरा माजरा समझ आया, दरअसल बाइक पर असली पुलिस नहीं, बल्कि नकली पुलिस थी।

शहर सराफा बाजार में गुरुवार सुबह बाइक सवार पुलिस के पीछे पुलिस को पैदल भागते देख अफरातफरी मच गई। आगे वाले दोनों पुलिसकर्मियों के पीछे भाग रहा सिपाही पिस्टल तानते हुए चेतावनी दे रहा था कि रुक जाओ नहीं तो गोली मार दूंगा। अचानक बाइक स्लिप हुई और दोनों पुलिसकर्मी सड़क पर जा गिरे। लेकिन उसके बावजूद पास ही मंदिर में जा घुसे। बाद में पता चला कि मंदिर में घुसे दोनों पुलिसकर्मी फर्जी हैं और उनके पोस्टर सराफा बाजार में चस्पा हैं। यह सुनते ही भीड़ ने इन फर्जी पुलिसकर्मियों को जमकर धुन दिया। पुलिस की वर्दी में दो लोग बाइक से सराफा बाजार में घूम रहे थे। बाजार में मौजूद थाना देहली गेट के सिपाही कुलदीप और आशू दिवाकर ने इन्हें देखा तो झट से पहचान लिया। दोनों पुलिस वालों को देखकर इन फर्जी पुलिसकर्मियों ने बाइक मोड़ ली तो कुलदीप और आशू ने शोर मचाते ही इनके पीछे दौड़ लगा दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here