घर के इकलौते चिराग की सड़क हादसे में मौत, हाथ में फंसा रखा था हेलमेट इसलिए…

नैनीताल : भूमियाधार के पास बस और बाइक की जोरदार टक्कर में 19 वर्षीय चिराग की मौत हो गई। सूचना पर पहुंचे परिजन चिराग को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए लेकिन चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए नैनीताल भेज दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार दोपहर चालक बलवंत सिंह 50 निवासी ग्राम लोहाली मिनी बस संख्या यूके 01 पीए 0034 को लेकर अल्मोड़ा से हल्द्वानी की ओर जा रहा था। भूमियाधार के समीप पहुंचने पर सामने से आ रही बाइक संख्या यूपी 14 सीसी 3376 से बस की जोरदार भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बाइक बस के अगले हिस्से के नीचे घुस गई। हादसे में बाइक सवार गौरव बिष्ट (19) निवासी भूमियाधार बुरी तरह घायल हो गया। सूचना पर पहुंचे गौरव के परिजनों ने उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भवाली पहुंचाया, लेकिन वह पहले ही दम तोड़ चुका था।

इकलौता चिराग था गौरव

गौरव दो बड़ी बहनों के बाद सबसे छोटा इकलौता बेटा था। वह नैनीताल डीएसबी कॉलेज से बीए तृतीय वर्ष की पढ़ाई कर रहा था। पिता रोडवेज में संविदा में चालक के पद पर तैनात हैं। गौरव की मौत के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

हेलमेट पहना होता तो बच सकती थी जान

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार दुर्घटना के समय गौरव ने हेलमेट सर में पहनने के बजाय हाथ में फंसाया था। इस कारण भी बाइक को संभालना मुश्किल हो गया था। तेज रफ्तार होने के कारण बाइक अनियंत्रित होकर बस के नीचे घुस गई। उसकी मौत भी सिर में चोट लगने के कारण ही हुई है, यदि हेलमेट पहना होता तो शायद जान बच जाती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here