खबर का असर : ARTO दफ्तर में ज्वॉइंट मजिस्ट्रेट की छापेमारी, दलालों में अफरातफरी

रुड़की ज्वाइंट मजिस्ट्रेट नितिका खंडेलवाल के द्वारा आज ARTO कार्यालय पर छापामार कार्यवाही की है। आपको बता दें कि विगत दो दिनों पहले एआरटीओ कार्यालय में रिश्वत लेने का वीडियो वायरल हुआ था जिसको हमारे चैनल ने प्रमुखता से दिखाया गया था। इसी को लेकर प्रशासनिक अमला सतर्क हो गया।

दलालों की जेब से भारी मात्रा में लोगों के द्वारा बनवाये गए लाइसेंस बरामद

आपको बता दें कि ज्वॉइंट मजिस्ट्रेट ने जैसे ही संभागीय कार्यालय में छापेमारी की तो इस कार्यवाही में ARTO कार्यालय में भारी कमियां सामने आई है। ARTO कार्यालय के बाहर बैठे दलालों के यहां भी ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने कार्यवाही की है जिसमे दलालों की चेकिंग की गई तो दलालों की जेब से भारी मात्रा में लोगों के द्वारा बनवाये गए लाइसेंस बरामद हुए हैं। कुछ दलालों के पास अन्य कुछ कागजात के अलावा अच्छी खासी रकम भी बरामद हुई है। साथ ही साथ बाइक और कार के इंश्योरेंस के कागजातों में भी काफी गड़बड़ी मिली है। जांच में पाया गया कि एक ओरिजनल इंश्योरेंश के आधार पर ही नंबर बदलकर दूसरे इंश्योरेंश बनाने जैसी गड़बड़ी भी नजर आई है।छापा लगते ही कुछ दलाल भागने में कामयाब हो गए है।

ARTO कार्यालय को चला रहे बाहर बैठे दलाल

कार्यालय के बाहर अपनी दुकानें सजाकर बैठे कार्यालय के दलालों में अफरातफरी का माहौल बन गया। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने जांच शुरू की तो कार्यालय के ज्यादातर कागजों में भारी गड़बड़ी मिली है जिनकी पूरी तरह से जांच के बाद कार्यवाही की बात कही जा रही है। स्थानीय लोगो का कहना है कि ARTO कार्यालय पूरी तरह से बाहर बैठे दलाल ही चला रहे हैं। उनकी अधिकारियों और कर्मचारियो से सेटिंग है आम आदमी अगर किसी काम से आता है तो उसका काम नही किया जाता उसको चक्कर कटवाए जाते है और बाहर बैठे दलालो के पास भेज दिया जाता है जो मोटी रकम लेकर कार्य करवा देते है। वहीं जॉइंट मजिस्ट्रेट ने कार्यालय के सामने से दो दलालों को भी पुलिस की हिरासत में भेजा है और उनकी दुकानें सील कर दी हैं।

2 COMMENTS

  1. एक बार एआरटीओ ऑफिस रुद्रपुर में भी छापा मार पड़ना चाहिए

  2. कभी रजिस्ट्री ऑफिस में जाईये ।भ्रस्टाचार का बाप है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here