द्वारहाट में दीवारों पर लिखे नारों से प्रशासन बेचैन

द्वारहाट-  अल्मोड़ा जिलें मे माओवादी विचारधारा के चस्पा पोस्टरों से जिला प्रशासन की नाक में दम कर रखा है।

एक लंबे अर्से से माओवादी विचारधार अल्मोड़ा की वादियों में हलचल मचाकर पनपने की कोशिश कर रही है। लगातार पोस्टरबाजी जारी है। अबकी बार अल्मोड़ा के द्वारहाट में मोओवादी दीवार लेखन और पोस्टर स्थानीय डिग्री कालेज की दीवार और उसके आसपास मिले हैं।

हालांकि इनके जरिए राज्य में शराब की बिक्री और बड़े बांधों का विरोध जताया गया है। कॉलेज के आसपास किए गए दीवार लेखन में माओवाद से जुड़ने की अपील भी की गई है। माना जा रहा है कि माओवादी अपनी विचारधारा से युवाओं के दिलो-दिमाग पर असर डालना चाहते हैं।

लेकिन बड़ा सवाल ये है कि ज्यादा चौकस कौन है, प्रशासन या माओवादी। प्रशासन चौकस है, तो दीवारों पर कौन लाल रोशनाई से क्रांति की बात कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here