टिहरी : मासूम के साथ दुष्कर्म, डॉक्टर ने कहा पहले FIR कराओ दर्ज तब करेंगे इलाज

टिहरी : उत्तराखंड में लगातार दुष्कर्म के मामले बढ़ते जा रहे हैं. जिनका शिकार छोटी-छोटी बच्चियां भी हो रही है. वहीं एक बार फिर छोटी मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. वहीं इस दौरान भगवान कहलाए जाने वाले डॉक्टरों का भी असली चेहरा सामने आया है.

चार साल की मासूम के साथ दुष्कर्म

मिली जानकारी के अनुसार टिहरी जिले से चार साल की मासूम के साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है. पीड़िता के परिजनों ने कोतवाली में जीरो एफआईआर पर मुकदमा दर्ज कराया गया है. बताया जा रहा है कि आरोपी पीड़ित बच्ची का नाबालिग रिश्तेदार है।

अपने ही रिश्तेदार ने किया दुष्कर्म

मिली जानकारी के अनुसार बच्ची बुधवार शाम घर के पास खेल रही थी। बच्ची की मां इस दौरान घास काटने गयी थी. इसी बीच आरोपित बच्ची को पास के खेत में ले गया। कुछ देर बाद बच्ची कराहते हुए घर पहुंची तो परिजनों ने उससे पूछताछ की। उसके बताने पर परिजन सहम गए और आनन-फानन में बच्ची को रात 12.30 बजे दून मेडिकल कालेज लेकर पहुंचे।

डॉक्टरों का अमानवीय चेहरा आया सामने

वहीं इस दौरान डॉक्टरों का अमानवीय चेहरा सामने आया. चिकित्सकों ने बच्ची का इलाज समय से नहीं किया औऱ परिजनों को कहा कि ये पुलिस केस है पहले पुलिस को बुलाओ. दुष्कर्म पीड़ित मासूम एक घंटे तक दर्द से कराहती रही। मां-बाप इलाज के लिए गिड़गिड़ाते रहे, लेकिन डॉक्टरों ने साफ कह दिया कि पहले एफआईआर दर्ज कराओ, उसके बाद ही इलाज होगा। मौके पर पहुंची एसपी सिटी श्वेता चौबे ने चिकित्सकों पर नाराजगी जताई तब मासूम का इलाज शुरू किया गया। इस बीचे माता-पिता भी कोतवाली गए औऱ मामला दर्ज कराया.

हालत गंभीर देखकर पीड़िता को हायर सेंटर रेफर कर दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here