सुबोध उनियाल बोले- बिल्ली की सोच वाली राजनीति करते हैं रावत, उनके चरित्र में झूठ का बड़ा भंडार

देहरादून : उत्तराखंड में 14 फरवरी को मतदान हो चुका है। मतदान से पहले पार्टियों ने एक दूसरे पर जमकर वार किया और आरोप प्रत्यारोप लगाए. लेकिन बता दें कि ये सिलसिला थमा नहीं है। ये मतदान के बाद भी जारी है। भाजपा कांग्रेस के बीच जुबानी हमलेबाजी जारी है। इन दिनों सुबोध उनियाल हरीश रावत के पीछे पड़े हैं और हरदा पर हमला कर रहे हैं।

कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने बीते दिन वीडियो जारी कर उन पर हमला किया तो वहीं एक बार फिर से सुबोध उनियाल ने पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष रहे हरीश रावत पर निशाना साधा है। सुबोध उनियाल ने कहा कि रावत बिल्ली की सोच वाली राजनीति करते हैं। उनका एकला चलो का सिद्धांत ही उनके आड़े आ रहा है। हरदा के मुख्यमंत्री बनने या फिर घर बैठने संबंधी बयान पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि न नौ मन तेल होगा और न राधा नाचेगी

कैबिनेट मंत्री उनियाल ने शुक्रवार को मीडिया से रुबरु होते हुए कहा कि हरीश रावत सुबह कुछ बोलते हैं और शाम को कुछ और। झूठ का बड़ा भंडार उनके चरित्र में है। वह यहीं नहीं रुके और कहा कि हरदा का बिल्ली वाला चरित्र है। बिल्ली की सोच रहती है कि घर में कोई रहे न रहे, वह रहे। इसी चरित्र की राजनीति हरदा करते हैं। कहा कि हरीश रावत पहले लालकुआं से चुनाव जीतकर तो दिखाएं, बाकी बातें तो बाद की हैं। कहा कि वह तो पिछले 2-3 साल से हरदा को राजनीति से संन्यास लेने की सलाह देते आ रहे हैं। ईश्वर ने रावत को सद्बुद्धि दे दी है कि अब उन्हें घर बैठ जाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here