हरिद्वार : एक किंग कोबरा और दो मगरमच्छ निकलने से हड़कंप, टीम ने ऐसे किया रेस्क्यू

हरिद्वार के लक्सर में अलग-अलग गांव में एक साथ दो मगरमच्छ व वन विभाग कार्यालय परिसर में एक किंग कोबरा निकलने से वन विभाग कर्मचारियों में हड़कंप मच गया और वन विभाग कर्मचारी इधर-उधर दौड़ते रहे। लक्सर के दाबकीकला गाँव में एक मगरमच्छ केहड़ा गांव में एक मगरमच्छ व वन विभाग कार्यालय के परिसर में एक किंग कोबरा निकालने से वन कर्मियों के हाथ पांव फूल गए और उन्होंने आनन-फानन में इनका रेस्क्यू करना शुरू किया। तीनों ही जगह रेस्क्यू करने में भारी मशक्कत करनी पड़ी। दाबकी कला गांव में मगरमच्छ का रेस्क्यू करने के लिए वन विभाग कर्मचारियों को 2 घंटे से ज्यादा का समय लगा। साथ ही केहड़ा गाँव में मगरमच्छ का रेस्क्यू करने भी वन कर्मचारियों के लिए भारी पड़ा। इससे भी ज्यादा भारी किंग कोबरा का रेस्क्यू करना वन कर्मियों के लिए सिरदर्द बन गया कई घंटों तक मशक्कत करने के बाद वन विभाग कर्मचारियों ने रेस्क्यू कर लिया और इन्हें संभावित सुरक्षित स्थानों पर छोड़ दिया गया।

आपको बताते चलें कि लक्सर में ऐसा पहली बार नहीं हुआ। हाल ही में कुछ ही दिन पहले दो जगह मगरमच्छ एक साथ निकलने से सनसनी फैल गई थी। लक्सर वन विभाग ने आनन-फानन में 2 टीमें बनाई थी घंटों मशक्कत के बाद दोनों मगरमच्छ कर पकड़ लिया गया था। बार-बार इस तरह की घटनाएं होना लक्सर वन विभाग के लिए सिरदर्द बन गया है।

दरअसल लक्सर वन विभाग के पास कम कर्मचारी होना एक बड़ी परेशानी है। एक साथ अलग-अलग जगह घटनाएं होने से कम कर्मचारियों का होना वन विभाग के लिए बड़ी परेशानी बन जाता है और लक्सर वन विभाग को इन जानवरों का रेस्क्यू करना भारी पड़ जाता है। हालांकि लक्सर वन कर्मी घंटों मशक्कत कर सफल रेस्क्यू कर लेते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here