देहरादून से बीटेक कर रही छात्रा ने की आत्महत्या, इस बात को लेकर हुई थी मां से बहस

काशीपुर। फीस जमा न होने से परेशान बीटेक की छात्रा ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस ने परिजनों से पूछताछ की। मौके पर पुलिस को मोबाइल और एक डायरी मिली है जिसकी जांच पुलिस कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार प्रभु बिहार कालोनी निवासी 22 वर्षीय निशा पुत्री स्व. सतपाल सिंह देहरादून के एक कॉलेज से बीटेक कर रही थी। वो प्रथम वर्ष की छात्रा थी। इन दिनों उसकी ऑनलाइन क्लास चल रही थी। छात्रा घर में ही रहकर पढ़ाई कर रही थी। घर में मां और बेटी अकेली ही रह रही थी। पिता का देहांत हो चुका है।

कटोराताल पुलिस चौकी इंचार्ज नवीन बुधानी ने बताया परिजनों से पूछताछ में पता चला कि पिछले लॉकडाउन में आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से कॉलेज की फीस नहीं भर पाई थी। इधर कॉलेज वाले फीस के लिए दबाव बना रहे थे। बीती रात मां और बेटी के बीच फीस को लेकर कुछ बात हुई थी। मृतका की मां ने बताया कि रोज की तरह वह रात को वह अपने कमरे में सोने के लिये चली गई थी। आज सुबह लगभग 9:30 बजे जब कमरा बाहर से खटखटाने पर खोला नहीं तो उन्हें अनहोनी की आशंका हुआ। धक्का देने पर कुंडी अंदर से खुल गई। सामने का नजारा देख सबके होश उड़ गएष निशा का शव दुपट्टे से पंखे में लटका हुआ मिला। ये देख मां बेहोश हो ग। मृतका की मां ने दामाद कपिल सक्सैना को फोन किय। चीख पुकार सुनकर पड़ोस के लोग मौके पर पहुंचे औऱ पुलिस को सूचना दी।

मां ने बताया कि निशा ऊपरी मंजिल में कम ही जाती थी। अधिकतर नीचे के ही हिस्से में रहती थी। मृतका की मां पति की मृत्यु के बाद यहाँ रोडवेज के पास एक ढाबा चलाकर परिवार का गुजर बसर करती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here