स्टार प्रचारक सतपाल महाराज उत्तराखंड से नदारद, केंद्रीय मंत्रियों के लिए मांग रहे वोट

देहरादून : उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव के प्रचार के लिए भाजपा ने 40 चेहरों को स्टार प्रचार के रूप में जगह दी है लेकिन जिन चेहरों को स्टार प्रचारक बनाया गया है, उनमें से कई चेहरों का उपयोग भाजपा ने प्रचार के लिए नहीं किया. इन्ही में से एक नाम सतपाल महाराज का भी है जो उत्तखंड में स्टार प्रचारकों की सूची में जगह तो पाए हुए हैं लेकिन भाजपा के लिए प्रचार प्रसार उत्तराखंड में नहीं कर रहे हैं।

क्या भाजपा सतपाल महाराज को नहीं मानती भगवा सेना का ब्रिगेडियर

उत्तराखंड की सियासत के बड़े चेहरे सतपाल महाराज लोकसभा चुनाव के महासंग्राम के बीच उत्तराखंड में मौजूद नहीं है. उत्तराखंड भाजपा की स्टार प्रचारक की सूची में बेशक सतपाल महाराज का नाम शामिल हो लेकिन अभी तक सतपाल महाराज ने एक भी रैली को उत्तराखंड में सम्बोधित नहीं किया है, जिससे सियासी गलियारों में चर्चााओं को बाजार गर्म है कि क्या जो दूरियां कैबिनेट मंत्री बनने के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से महराज की बढ़ी है. वहीं दूरियां लोकसभा चुनाव में भी सतपाल महाराज, त्रिवेंद्र सिंह रावत और भाजपा संगठन के साथ बढ़ रही है, जिस तरह से भाजपा ने अभी तक सतपाल महाराज का उपयोग उत्तराखंड लोकसभा चुनाव में नहीं किया है उससे तो यही लगाता है कि 2014 में लोकसभा चुनाव में भाजपा का दामन थामने वाले सतपाल महाराज को अभी भी भाजपा संगठन और भाजपा नेता पूरी तरह से भगवा सेना का ब्रिगेडियर नहीं मानते हैं, जबकि भाजपा हाईकमान सतपाल महाराज का उपयोग लोकसभा चुनाव में भरपुर तरिके से कर रहा है।

पौड़ी गढ़वाल सीट से दो बार सांसद रह चुके हैं महाराज, नहीं नजर आए तीरथ के साथ

उत्तराखंड भाजपा महाराज से परहेज कर रही है…यही वजह है कि महाराज पौड़ी लोकसभा सीट पर नामांकन करने के दौरान तीरथ सिंह रावत के साथ भी नजर नहीं आए थे. वह भी तक जब पौड़ी गढ़वाल सीट से महाराज दो बार सांसद रह चुके हैं. पौड़ी लोकसभा सीट पर महाराज का अच्छा प्रभाव है. उत्तराखंड भाजपा की उपयोगिता को दरकिनार कर रही है जबकि भाजपा हाईकमान महाराज का उपयोग केंद्रीय मंत्रियों के गढ़ में उनके कद के अनुसार कर रही है. महाराज अभी तक यूपी में कई रैलियों को सम्बोधित कर चके हैं, साथ ही महाराज केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी, जनरल वीके सिंह, महेश शर्मा, सत्यपाल सिंह के लिए भी वोट मांगेगे। उत्तराखंड भाजपा के महराज की अनदेखी करने से कांग्रेस भी उत्तराखंड भाजपा पर सवाल खड़े कर रही है।

सतपाल महाराज का कांग्रेस में ज्यादा सम्मान था-कांग्रेस

कांग्रेस जहां ये कहती हुई नजर आ रही है कि सतपाल महाराज का कांग्रेस में ज्यादा सम्मान था वहीं भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता विरेंद्र बिष्ट का कहना कि महाराज के कद का उपयोग भाजपा आने वाले दिनों में करेंगे।

जल्द ही 5 लोकसभा सीटों पर उनके कार्यक्रम तय कर लिए जाएंगे- भाजपा नेता

खबर उत्तराखंड ने जब भाजपा नेताओं से महाराज की अनदेखी लोकसभा चुनाव में किए जाने का सवाल उठाया तो भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष ज्योति प्रसाद गैरोला ने सीधे तौर से कह दिया कि महाराज के कार्यक्रम उत्तराखंड में तय किए जा रहे हैं,जल्द ही 5 लोकसभा सीटों पर उनके कार्यक्रम तय कर लिए जाएंगे।

उत्तराखंड में सतपाल महाराज भाजपा के लिए एक मात्र स्टार प्रचारक नहीं है जिनका उपयोग भाजपा नहीं कर पा रही है. पूर्व सीएम विजय बहुगुणा, पूर्व सीएम बीसी खंडूरी समेत कई ऐसे केंद्रीय मंत्री और उत्तराखंड सरकार के में कैबिनेट मंत्री है जिनके नाम तो स्टार प्रचारकी की सूची में शामिल हैं लेकिन भाजपा भाजपा उनका उपयोग नहीं कर पा रहा है.ऐसे में सवाल ये उठता है कि क्या महज स्टाॅर प्रचारक कि सूची में बड़े नाम खाना पूर्ति के लिए रखेगे गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here