उत्तराखंड : बर्फबारी ने बढ़ाई मुश्किलें, कई गांवों का जिला मुख्यालय से कटा संपर्क

उत्तरकाशी: राज्य के कई हिस्सों में पिछले 24 घंटे से लगातार बारिश और बर्फबारी हो रही है। लागातार हो रही बर्फबारी के कारण उत्तरकाशी जिले के कई गावों का संपर्क जिला मुख्यालय से कट गया है। लोग घरों में ही कैद हो गए हैं। हालांकि, बंद मार्गों को खालने का लगातार प्रयास किया जा रहा है। लेकिन, आसमान से बरस रही बर्फीली आफत के कारण दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

बर्फबारी होने से गंगोत्री- यमुनोत्री हाईवे सहित दो सौ से अधिक गावों का जिला मुख्यालय से संपर्क से टूट चुका है। बर्फबारी से देहरादून-सुवाखोली मार्ग भी बंद हैं। वहीं, यमुनाघाटी से जिला मुख्यालय जाने वाला मार्ग भी राड़ी टॉप पर भारी बर्फबारी के कारण बंद हो गया है। आपदा प्रबंधन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक जिले की सैकड़ों सड़के बंद हैं। बीआरओ, एनएच और लोनिवि मार्ग खोलने का प्रयास कर रहे हैं।

जिले में गंगोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग सुक्की टॉप तक यातायात के लिए सुचारू है। लेकिन, उससे आगे हर्षिल, गंगोत्री तक लगातार बर्फबारी होने के कारण मार्ग बाधित है। यमुनोत्री राष्ट्रीय राज्य मार्ग राड़ी टॉप, फूलचट्टी और जानकी चट्टी में बर्फबारी होने के कारण बंद हैं। देहरादून-मसूरी-सुवाखोली मोटर मार्ग बर्फबारी के कारण बाधित है।

उत्तरकाशी लंबगांव मोटर मार्ग चौरंगीखाल में बर्फबारी होने के कारण मार्ग बाधित है। इसके अतिरिक्त दर्जनों ग्रामीण मार्ग बंद हैं। शुक्रवार सुबह से जनपद में बर्फबारी का सिलसिला जारी है। इस कारण गंगोत्री व यमुनोत्री धाम सहित जनपद के 1500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले सभी इलाके बर्फ से लकदक हो गए। आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल ने बताया कि दोपहर दो बजे तक गंगोत्री सुक्की टॉप, यमुनोत्री हाईवे पर राड़ी टॉप पर यातायात बहाल करने के निर्देश दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here