घूसखोर शिक्षा अधिकारी को पहले ही सस्पेंड कर चुके थे मंत्री, डीएम ने नहीं किया था रिलीव

देहरादून। उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय ने जिस मुख्यशिक्षा अधिकारी को एक साल पहले आम जनता की शिकायत के बाद संस्पेड कर दिया था उसी मुख्य शिक्षा अधिकारी जगमोहन सैनी को विजलेंस विभाग ने रंगे हाथों घूस लेते गिरफ्तार किया है। अंतर इतना है कि अगर शिक्षा मंत्री के द्वारा सस्पेंड किए जाने के बाद अगर अलमोड़ा के मुख्य शिक्षा अधिकारी सुधर जाते या उनके खिलाफ जांच की जाती तो भ्रष्टाचार के दीमक को पहले की खत्म किया जा सकता था।

खास बात ये भी है कि जब विभागीय मंत्री के द्धारा मुख्य शिक्षा अधिकारी को संस्पेंड कर दिया गया था तो फिर अल्मोड़ा के डीएम नितिन भदौरिया ने क्यों शिक्षा मंत्री के द्धारा सस्पेंड किए गए मुख्य शिक्षा अधिकारी जगमोहन सोनी को रिलीव नहीं किया वो भी तब जब शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय ने आम जनता की शिकायत पर मुख्य शिक्षा अधिकारी जगमोहन सोनी को इसलिए सस्पेंड कर दिया था कि वह आशासकीय स्कूल में विज्ञप्ति निकालने के लिए घूस ले रहे थे। खास बात ये है कि खबरउत्तराखंड.कॉम ने इस संबंध में पहले भी खबर प्रकाशित की थी।

उत्तराखंड Exclusive : भर्ती निकालने के लिए पैंसे मांग रहा था अधिकारी, शिक्षा मंत्री ने की कार्रवाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here