कोरोना पर चौंकाने वाला खुलासा, 11 साल की बच्ची के दिमाग पर दिखा ऐसा असर

 

 

नई दिल्ली : कोरोना शरीर के विभिन्न अंगों पर असर डालते हैं। अब तक के कई चिकित्सीय अध्ययन में इस बात का भी पता चला है कि कोरोना वायरस की वजह से दिमाग पर भी असर पड़ता है। पहली बार देश में Covid-19 संक्रमण के चलते दिमाग की नसें कमजोर होने का मामला सामने आया है। नई दिल्ली स्थित AIIMS में भर्ती एक 11 वर्षीय बच्ची में यह परेशानी देखने को मिली जिसके बाद डॉक्टरों ने भी उसे बचाने के लिए अध्ययन शुरू कर दिया है। कोरोना संक्रमण की चपेट में आने के कुछ दिन बाद बच्ची की हालत बिगड़ने लगी थी।

आनन-फानन में उसे AIIMS के आपातकालीन वार्ड में भर्ती कराया गया इसके बाद चिकित्सकीय जांच में पता चला है कि संक्रमण की वजह से उसके दिमाग की नसें कमजोर पड़ गई हैं। हालांकि एक लंबे अध्ययन और गहन निगरानी की वजह से बच्ची अब संक्रमण मुक्त है, लेकिन उसके मस्तिष्क पर अभी भी इसका असर है। AIIMS के बाल न्यूरो विभागाध्यक्ष डॉ. शेफाली गुलाटी का कहना है कि नसें कमजोर पड़ने के चलते बच्चे की आंखों पर बुरा असर पड़ा है।

इससे पहले कोविड संक्रमण का ऐसा मामला देखने को नहीं मिला है यह केस डॉक्टरों के लिए भी एक चुनौती बना हुआ है। डॉक्टर गुलाटी ने बताया कि कोरोना की वजह से बच्ची के दिमाग में एक्यूट डेमालिनेटिंग सिंड्रोम (SDS) नामक परेशानी देखने को मिली। आमतौर पर 35 से 40 वर्ष की आयु के बाद या परेशानी देखने को मिलती है लेकिन कोरोना की वजह से इतनी कम आयु में पहली बार ही देखने को मिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here