डेंगू से लड़ने के लिए देहरादून पुलिस समेत कई विभाग हुए एकजुट, 100 टीमों का गठन

देहरादून : देहरादून पुलिस ने पुलिस लाइन में डेंगू से बचाव व रोकथाम के लिए अन्य संबंधित विभागों के साथ कार्यशाला आयोजित की. इस कार्यशाला में दून पुलिस के साथ कई विभाग एक जुट हुए जो डेंगू से लड़ेंगे. दून पुलिस ने ड़ेंगू से बचाव के लिए अन्य विभागों के साथ मिलकर जन जागरूकता अभियान चलाया गया।

आपको बता दें कि इस कार्यशाला में पुलिस विभाग के अतिरिक्त जिलाधिकारी कार्यालय, स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम, शिक्षा विभाग और स्वयं सेवी संस्थाओं के लगभग 1200 अधिकारी-कर्मचारियो ने प्रतिभाग किया।

100 टीमों का किया गया गठन

इस कार्यशाला का उद्देश्य मुख्य रूप से आम जनता को जनजागरूकता अभियान के माध्यम डेंगू के प्रकोप के बचाव के सम्बन्ध में जानकारी देना है। इसके लिये विभिन्न विभागों के साथ समन्वय स्थापित करते हुये 100 टीमों का गठन किया गया। टीम में पुलिस विभाग, स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम, शिक्षा विभाग व स्वंयसेवी संस्थायें व अन्य विभागों के अधिकारी-कर्मचारीगण को सम्मिलित किया गया। गठित टीम द्वारा नगर निगम जनपद देहरादून के प्रत्येक वार्ड में जाकर जागरूकता अभियान चलाया गया, जिसमें डेंगू की पहचान व सावधानी बरतने के सम्बन्ध में वार्ड के निवासियों को जानकारी दी गयी और जनप्रतिनिधियों के साथ सम्भावित डेंगू प्रभावित क्षेत्र पर फॉगिंग करायी गयी व डेंगू के लारवा को हटाने की कार्यवाही की गयी। गठित टीम ने नगर निगम क्षेत्र के प्रत्येक वार्ड में जाकर जहां-जहां डेंगू का मच्छर व लारवा पाये गये, को नष्ट किया गया।

डेंगू को पूर्ण रूप से समाप्त किये जाने के लिए उक्त अभियान को सभी विभागों ने संयुक्त रूप से आगे भी प्रचलित करते हुये डेंगू के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही की जायेगी।

उक्त कार्यशाला के दौरान एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने जनपद के थाना प्रभारियों के साथ गोष्ठी आहूत कर उन्हें अपने-अपने थाना क्षेत्रों में अन्य विभागों से समन्वय स्थापित कर उपरोक्त डेंगू के बचाव व सावधानी बरतने हेतु दिशा-निर्देश निर्गत करते हुये उक्तानुसार कार्यवाही किये जाने निर्देशित किया गया।

कार्यशाला में देहरादून मेयर सुनील गामा,  जिलाधिकारी वी. रविशंकर, देहरादून एसएसपी अरुण मोहन जोशी, नगर आयुक्त देहरादून, मुख्य चिकित्साधिकारी देहरादून और विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। कार्यशाला के दौरान उपस्थित अधिकारी-कर्मचारियों को डेंगू से बचाव के उपायों के संबंध में जानकारी देते हुए उन्हें लोगों को इस संबंध में जागरूक करने के लिए निर्देशित किया गया।

 डेंगू से कैसे बचा जाये

1- डेंगू मादा एडीज इजिप्टाई मच्छर के काटने से होता  है।

2- डेंगू मच्छर दिन के समय काटता है,  ऐसे कपड़े पहने जो बदन को पूरी तहर ढक सके।

3- डेंगू के हर रोगी को प्टेटलेट्स की आवश्यकता नहीं पड़ती है।

4- ड़ेंगू का बुखार बरसात के मौसम में माह जुलाई से अक्टूबर तक फैलता है।

5- डेंगू फैलाने वाला मच्छर रूके हुये साफ पानी मे पनपता है। इसके लिये यह आवश्यक है      कि आपके घर में या आसपास पानी तो जमा नहीं। जैसे-कूलर, पानी की टंकी, फ्रीज की ट्रे, नारियल का खोल, डिस्पोजल बर्तन-गिलास, पीने के पानी का बर्तन इत्यादि।

6-  पानी से भरे बर्तनों व टंकियों आदि को ढक कर ही रखें।

7-  घरो में चिड़िया/पालतू जानवरों के पानी पीने वाले बर्तनों में पानी अनवश्यक जमा न होने दे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here