सुरक्षाबलों ने तीनों आतंकियों को मार गिराया, देश ने खोया एक जवान, 2 घायल

जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर रामबन के बटोत इलाके में आतंकियों ने शनिवार को छह लोगों को बंधक बना लिया. इनमें से सभी को छुड़ा लिया गया है. इस कार्रवाई में सेना का एक जवान शहीद हो गया जबकि दो पुलिसकर्मी जख्मी हैं. आतंकियों के खिलाफ सेना का ऑपरेशन खत्म हो गया है. इसकी जानकारी जम्मू के पुलिस महानिदेशक (आईजी) मुकेश सिंह ने दी.

उधर गांदरबल में भी मुठभेड़ हुई है, जहां 3 आतंकियों को मार गिराया गया है. आतंकियों ने श्रीनगर के डाउनटाउन में सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड हमला किया है. आतंकी साजिश को देखते हुए श्रीनगर में सुरक्षाबलों की मुस्तैदी बढ़ा दी गई है. साथ ही श्रीनगर समेत कई इलाकों में पाबंदियां दोबारा लगा दी गई हैं.जम्मू-कश्मीर के बटोत इलाके में आतंकवादी एक घर में घुस गए और लोगों बंधक बना लिया. जिसके बाद सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके का घेराव कर लिया है.

जानकारी के मुताबिक 5 आतंकी ग्रेनेड हमला करने के बाद घर में घुसे और सुरक्षाबलों ने उनका पीछा करते हुए घेर लिया है. तीनों आतंकी विजय कुमार नाम के शख्स के घर में घुसे. उस वक्त उनके परिवार के अन्य लोग घर से बाहर थे. इसके बाद आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी.जवाब में पुलिस और सेना ने भी आतंकियों को निशाना बनाकर गोलीबारी की. सुरक्षाबलों ने विजय कुमार को सुरक्षित बचा लिया.

इंटेलिजेंस के सूत्रों के मुताबिक ये तीनों आतंकवादी उसी समूह का हिस्सा हैं, जो डोडा-बटोत रोड पर हलडानू एनकाउंटर साइड से फरार हुए थे. ये आतंकवादी घने जंगलों में 9 किलोमीटर तक पैदल चलते हुए विजय कुमार के घर पहुंचे. उनका घर जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर स्थित बटोत बस अड्डे से महज 300 मीटर दूर है.

रामबन में भी गोलीबारी

आतंकी बटोत के जिस घर में घुसे उसके पड़ोस के घर में रहने वाले एक शख्स ने कहा, बंदूकों के साथ तीन लोग हमारे बराबर वाले घर में घुसे, परिवार के बाकी लोग बाहर आ गए लेकिन उनके पिता अंदर बंधक हैं. रामबन इलाके में भी आतंकियों की ओर से फायरिंग जारी है. बटोत इलाके में हो रही बारिश के कारण सुरक्षाबलों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. बंधक बनाए गए विजय कुमार पेशे से दर्जी हैं और उनका बेटा अतुल कुमार रामबन जिले के बटोत में केबल का बिजनेस करता है. सुरक्षाबलों ने इलाके को चारों ओर से घेर लिया है और जम्मू और रामबन की ओर से आने वाले ट्रैफिक को भी रोक दिया गया है. स्थानीय लोगों से घरों के अंदर रहने को कहा गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here