बम ब्लास्ट मामले में वैज्ञानिक गिरफ्तार, ऑनलाइन मंगाया था सामान, इसको मारने की थी साजिश

रोहिणी कोर्ट ब्लास्ट मामले में पुलिस ने दिल्ली से एक साइंटिस्ट को गिरफ्तार किया है. जानकारी मिली है कि पकड़े गए साइंटिस्ट ने एक वकील को मारने के लिए रोहिणी कोर्ट नंबर 102 में बम रखा था. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आरोपी का एक वकील से मामला चल रहा था, जिसे वह मारना चाहता था. दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल को जांच के दौरान आरोपी साइंटिस्ट के खिलाफ कई सुबूत मिले और उसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया. शुरुआती जांच में सामने आया है कि साइंटिस्ट अकेले ही इस साजिश में शामिल था.

गौर हो की रोहिणी कोर्ट में 9 दिसंबर को बम धमाका हुआ था जिसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और एनएसजी मामले की जांच में जुटी थी. पीसी कर दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने बताया कि कई टीमें जांच में जुटी थीं. जांच के दौरान 1000 गाड़ियों की पहचान की गई जो ब्लास्ट वाले दिन रोहिणी कोर्ट आईं थीं. कोर्ट में उस दिन जिन-जिन मामलों की सुनवाई होनी थी, उनकी भी जांच की गई. फिर जिस काले रंग के बैग में बम रखा गया था, उस पर कंपनी का लोगो था. जांच में पता चला कि कंपनी मुंबई की है और इसका ऑफिस दिल्ली में भी है.

टीम ने जानकारी जुटाई कि कौन-कौन इस कंपनी के बैग का इस्तेमाल कर रहे थे। यहां पुलिस को अहम लीड मिली। पुलिस कमिश्नर ने बताया कि बैग से कुछ फाइल और कोर्ट के पेपर भी मिले थे. ये फाइल कहां बनी, कौन बेचता और बनाता है, इसकी भी जांच की गई. शुक्रवार को वैज्ञानिक भारत भूषण कटारिया को गिरफ्तार किया गया। घर में तलाशी के दौरान ब्लास्ट केस से संबंधित कई सामान मिले।।

सीसीटीवी से पता चला कि भारत भूषण कटारिया दो बैग लेकर कोर्ट पहुंचे थे. सीधे रास्ते से न आकर कटारिया दूसरे रास्ते से कोर्ट आया और एक बैग कोर्ट रूम के बाहर रख दिया. 10:35 पर ब्लास्ट के बाद दूसरा बैग लेकर कोर्ट से चला गया. फिलहाल, पूछताछ जारी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here