ऋषिकेश : बाहरी राज्यों के लुटेरों की उत्तराखंड के ज्वेलर्स पर नजर, पुलिस सतर्क

ऋषिकेश : यूपी सहित बाहरी राज्यों के लुटेरों की देहरादून समेत शहर के नामी लोगों और ज्वैलर्स की दुकानों पर पैनी नजर है. तभी आए दिन बदमाश बड़ी लूट को अंजाम दे रहे हैं. देहरादून में अभिमन्यू क्रिकेट अकेडमी के मालिक के घर हुई लूट और प्रेमनगर में ज्वैलर्स की दुकान में हुई लूट से पुलिस समेत ज्वेलर्स औऱ लोग सकते में है. जिसको देखते हुए देहरादून समेत ऋषिकेश पुलिस सचेत हो गई है. जी हां ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए ऋषिकेश कोतवाली पुलिस द्वारा सुनारों की दुकान को चिन्हित कर, सुनारों को सुरक्षा संबंधी आवश्यक निर्देश दिए गए साथ ही पुलिस तैनात की गई.

कोतवाल ने किया सभी ज्वेलर्स की दुकानों का निरीक्षण

देहरादून जिले में लगातार ज्वेलर्स की दुकानों पर होरही लूट को घटनाओं को देखते हुए सुनारों के साथ गोष्ठी का आयोजन किया गया. एसएसपी ने जनपद के सभी थाना प्रभारियों को ड्यूटी पर तैनात रहकर निगरानी करने के निर्देश दिए. इसी के चलते ऋषिकेश प्रभारी निरीक्षक रितेश शाह ने आज 8 अक्टूबर को क्षेत्र के सभी ज्वेलर्स की दुकानों का निरीक्षण किया गया और सभी ज्वेलर्स मालिकों के साथ एक गोष्ठी की गई।

कोतवाल ने सुनारों को दी महत्वपूर्ण जानकारियां ….

1- ज्वेलर्स एसोसिएशन के साथ पुलिस के लोगों को जोड़कर एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया।

2- सभी ज्वेलर्स अपने दुकानों में अंदर व बाहर अच्छी क्वालिटी के सीसीटीवी कैमरा लगाएंगे।

3- ऐसे ज्वेलर्स जिनकी दुकानें बड़ी है। अपने स्तर से एक गार्ड लगाना सुनिश्चित करेंगे।

4- सभी ज्वेलर्स अपनी दुकान में कार्य करने वाले कर्मचारी गणों की सूची बनाकर पुलिस के माध्यम से सत्यापन कराएंगे।

वहीं उच्चअधिकारियों के निर्देशों को शहर की सभी ज्वेलर्स एसोसिएशन के लोगों को अवगत कराते हुए गोष्ठी के बाद प्रभारी निरीक्षक रितेश शाहन ने क्षेत्र के ज्वेलर्स की दुकानों का निरीक्षण किया और साथ ही निम्नलिखित कार्रवाई की गई।

1- ज्वेलर्स लूट के दृष्टिगत सुनारों की दुकान वाले चौराहे पर सशस्त्र पिकेट ड्यूटी लगाई गई, जिनको समस्त ज्वेलर्स से मिलाया गया।

2- सभी ज्वेलर्स को बाहर आने जाने वाले रास्ते पर भी सीसीटीवी कैमरा लगाने हेतु बताया गया।

3- चेक करने पर कुछ ज्वेलर्स की दुकानों के सीसीटीवी कैमरे कार्य नहीं कर रहे थे। जिनको तत्काल सही कराने हेतु बताया गया।

4- कुछ ज्वेलर्स के द्वारा बाहर कैमरे नहीं लगाए गए थे, जिनको तत्काल कैमरे लगाने हेतु बताया गया।

5- ज्वेलर्स की दुकानों के आसपास घूमने वाले संदिग्धों को सुनारो द्वारा पुलिस को अवगत कराते हुए व पिकेट ड्यूटी के माध्यम से थाने लाकर  सत्यापन किया जाएगा।

6- सीसीटीवी कैमरे की सुरक्षा के दृष्टिगत सभी को डीवीआर की सुरक्षा रखने हेतु भी आवश्यक जानकारी दी गई।

इसके अतिरिक्त ऋषिकेश पुलिस के अनुरोध पर ज्वेलर्स एसोसिएशन के द्वारा ऋषिकेश पुलिस को उच्च क्वालिटी के 5(पांच)  सीसीटीवी कैमरे  3(तीन) दिवस के अंदर देने का वादा किया गया है। जिनको ऋषिकेश पुलिस के द्वारा  ज्वेलर्स बाजार की ओर आने-जाने वाले रास्तों पर लगाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here